अफवाह फैलाने वाले जाएंगे सलाखों के पीछे, अलर्ट जारी

अफवाह फैलाने वाले जाएंगे सलाखों के पीछे, अलर्ट जारी
DIG Dnyaneshwar Tiwari

Shatrudhan Gupta | Updated: 29 Sep 2017, 09:36:54 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

अवांछनीय तथा अराजक तत्वों पर सख्त कार्रवाई करने के स्पष्ट निर्देश खाकी के मातहतों को दिए गए हैं।

चित्रकूट. विजय दशमी (दशहरा) दुर्गा प्रतिमा विसर्जन और मोहर्रम के जुलूस के तहत ताजिया और अलम निकाले जाने के दौरान पुलिस किसी भी तरह की ढिलाई बरतने के मूड में नहीं है। सभी थानाध्यक्षों को उच्चाधिकारियों द्वारा कानून व्यवस्था में किसी भी तरह की लापरवाही न बरतने के सख्त निर्देश दिए गए हैं। खाकी की नजर खासतौर पर उन तत्वों पर ज्यादा होगी जो त्यौहार के मौके पर अफवाहों का जहर घोलने में माहिर माने जाते हैं।

अफवाहबाज अवांछनीय तथा अराजक तत्वों पर सख्त कार्रवाई करने के स्पष्ट निर्देश खाकी के मातहतों को दिए गए हैं। संवेदनशील स्थानों कस्बों और ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों के बीच आपसी सौहार्द प्रेम और मिल जुलकर त्यौहार मनाने की अपील पुलिस व जिला प्रशासन द्वारा की गई है। किसी भी तरह की लापरवाही यदि संबंधित थाना प्रभारी के क्षेत्र में बरती जाएगी तो उसके खिलाफ भी विभागीय कार्रवाई निश्चित है। डीआईजी रेंज चित्रकूट धाम मंडल ज्ञानेश्वर तिवारी ने जनपद के पुलिस लाइन में शुक्रवार को मातहतों के साथ बैठक करते हुए मूर्ति विसर्जन, ताजिया जुलूस और दशहरा पर कानून व्यवस्था किसी भी हालत में न बिगडऩे पाए, इसको लेकर अधिनस्थों के पेच कसते उक्त निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यदि कोई भी अफवाह फैलाते हुए नजर आए या ऐसे लोगों के बारे में कोई सूचना मिले तो तत्काल कार्रवाई की जाए।

दुर्गा प्रतिमा विसर्जन और मोहर्रम के तहत ताजिया जुलूस को लेकर पुलिस ने अपनी तैयारी मुकम्मल करते हुए पूरे जनपद में अलर्ट जारी कर दिया है। सभी थाना क्षेत्रों में बराबर गश्त करने और अराजक तत्वों पर नजर रखते हुए उन्हें चिन्हित करने के निर्देश मातहतों को दिए गए हैं। जरूरत पढऩे पर सख्त कार्रवाई के लिए भी खुली छूट खाकी को दी गई है, ताकि समाज में किसी भी तरह की अशांति न होने पाए। पुलिस लाइन में डीआईजी रेंज ज्ञानेश्वर तिवारी ने मातहतों के साथ बैठक करते हुए कानून व्यवस्था की रूप रेखा के बारे में जानकारी ली। जनपद में 910 स्थानों पर दुर्गा प्रतिमाएं स्थापित की गई हैं, जिनका विसर्जन 30 सितंबर तथा 1 अक्टूबर को होगा। इसके अलावा जिले में कुल 64 ताजियों एवं 91 अलम निकाले जाएंगे। इन सभी स्थितियों को देखते हुए डीआईजी ने निर्देश दिए कि किसी भी स्थिति में कानून व्यवस्था भंग न होने पाए। कोई नई परम्परा न विकसित हो, इसका विशेष ध्यान रखा जाए और सबसे खास बात ऐसे लोगों पर खास नजर रखें जो अफवाह फैलाने की कोशिश करते हैं। डीआईजी तिवारी ने दस्यु प्रभावित इलाकों में भी बराबर चहलकदमी करने के निर्देश मातहतों को दिए।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned