चित्रकूट में किराना स्टाेर में लगी भीषण आग, स्टोर संचालक की मां जली जिंदा

पुलिस ने फायर ब्रिगेड की मदद से आग पर काबू पाया

दुकान संचालक की मां की जिंदा जलकर मौत हो गई

By: Neeraj Patel

Updated: 22 Oct 2020, 11:27 AM IST

चित्रकूट. जिले के कर्वी कोतवाली के सदर बाजार में देर रात किराना स्टोर में भीषण आग लगने से अफरा तफरी मच गई। आग की तेज लपटें देखकर आसपास के लोगों में दहशत फैल गई और घरों से बाहर निकाल आए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने फायर ब्रिगेड की मदद से आग पर काबू पाया लेकिन इससे पहले दुकान संचालक की मां की जिंदा जलकर मौत हो गई। सूचना पर एसडीएम मौके पर पहुंच गए, वहीं आसपास के व्यापारियों की भीड़ एकत्र हो गई।

कर्वी कोतवाली अंतर्गत मुख्य बाजार में शंकर एजेंसी के नाम से राजुल गुप्ता का थोक किराना स्टोर है। मकान के नीचे के तल पर बने किराना स्टोर में पीछे के हिस्से में राजुल गुप्ता 70 वर्षीय पिता वंशगोपाल गुप्ता और मां गीता देवी रहते थे। वहीं ऊपरी मंजिल पर उनके बड़े भाई शिव शंकर परिवार के साथ रहते थे। तीन दिन पहले राजुल किसी काम से कानपुर चले गए थे, रात में मां और पिता स्टोर के पिछले हिस्से में बने मकान में थे। देर रात करीब ढाई बजे शार्ट सर्किट से अचानक आग लग गई। आग की तेज लपटें उठती देखकर आसपास के लोगों में अफरा तफरी मच गई। लोग अपने घरों से बाहर आ गए।

वहीं दुकान संचालक के भाई भी परिवार लेकर ऊपरी मंजिल से किसी तरह उतरकर सड़क पर आ गए। लोगों ने पुलिस और फायर ब्रिगेड को सूचना दी। इस बीच अंदर आग की लपटों के बीच से किराना स्टोर संचालक के पिता किसी तरह बाहर आ गए, लेकिन उनकी पत्नी अंदर ही फंस गईं। आग की लपटें तेज हो जाने से कोई भी अदंर जाने की हिम्मत नहीं जुटा सका।

मौके पर पहुंची एक दर्जन से ज्यादा फायर ब्रिगेड की गाड़ियों से जवानों ने आग पर काबू पाया लेकिन इससे पहले स्टोर संचालक की मां की जलकर मौत हो गई। फिलहाल फायर ब्रिगेड ने शार्ट सर्किट से आग लगने की बात कही है। सूचना पर एजेंसी मालिक राजुल कानपुर से वापस आ गए हैं। मौके पर पहुंचे एसडीएम सदर रामप्रकाश ने दैवीय आपदा दिलाने का भरोसा दिया है। राजुल ने बताया कि करीब डेढ़ करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned