कुख्यात डकैत को जेल में अपनी जान का खतरा ! उच्चाधिकारियों को लिखा पत्र

कुख्यात डकैत को जेल में अपनी जान का खतरा ! उच्चाधिकारियों को लिखा पत्र

Akansha Singh | Updated: 04 Apr 2019, 02:37:53 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

पाठा के बीहड़ों से लेकर तराई के इलाकों तक कभी खौफ का दूसरा नाम रहे कुख्यात डकैत रामगोपाल उर्फ गोप्पा को जेल में डर लग रहा है

चित्रकूट: पाठा के बीहड़ों से लेकर तराई के इलाकों तक कभी खौफ का दूसरा नाम रहे कुख्यात डकैत रामगोपाल उर्फ गोप्पा को जेल में डर लग रहा है. खूंखार डकैत ने जेल में अपने दुश्मनों द्वारा अपनी हत्या कराए जाने की आशंका जताते हुए प्रदेश के डीजीपी सहित पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर पूरे मामले से अवगत कराया है. हालांकि जेल प्रशासन ने ऐसे किसी भी मामले को निराधार बताया है. फ़िलहाल डाकू गोप्पा एक बार फिर सुर्खियों में है इस बात को लेकर कि जिस डकैत के सिर के ऊपर कभी खून सवार रहता था आज उसी को अपनी मौत का डर सता रहा है.

 

उच्चाधिकारियों को लिखा पत्र


सवा लाख के इनामी रहे कुख्यात डकैत रामगोपाल यादव उर्फ गोप्पा ने जिला जज सहित डीजीपी व पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर जेल में अपनी हत्या की आशंका जताई है. गोप्पा ने शिकायत करते हुए बताया है कि अखिलेश नाम का उसका विपक्षी रगौली जेल(जिसमें गोप्पा बंद है) में अपने कुछ साथियों के साथ किसी से मिलने आया था. इसी दौरान उसने(अखिलेश) उसे(गोप्पा) जान से मारने की धमकी दी और रसोइयों व अन्य कैदियों से उसके खाने में जहर मिला देने की बात कही. डकैत गोप्पा के मुताबिक इतना कहकर अखिलेश लौट गया. कुख्यात डकैत ने पत्र में उल्लेख किया है कि उसका विपक्षी अखिलेश भी कुछ दिन पहले इसी जेल में बंद था. उस दौरान भी कई बार दोनों में झड़प हुई थी. गोप्पा ने जेल प्रशासन पर भी सवाल उठाए हैं इस पूरे मामले को लेकर.


जेल प्रशासन ने आरोपों को नकारा


उधर इस पूरे मामले को लेकर जिला जेल रगौली के जेलर श्रीप्रकाश त्रिपाठी का कहना है कि आरोपी निराधार हैं. जेल में हर आने जाने व कैदियों से मिलने वालों पर कड़ी निगाह रखी जाती है. दोनों की आपसी दुश्मनी है जिसकी वजह से दोनों एक दूसरे की खिलाफत करते रहते हैं.


एसटीएफ ने पकड़ा था गोप्पा को


गौरतलब है कि कुख्यात डकैत रामगोपाल उर्फ गोप्पा को सन 2016 में यूपी एसटीएफ ने मुठभेड़ के दौरान चित्रकूट से गिरफ्तार किया था. गोप्पा इस समय जिला जेल रगौली(चित्रकूट) में बंद है. उसपर हत्या लूट डकैती अपहरण जैसी संगीन वारदातों के तीन दर्जन से अधिक मुकदमें दर्ज हैं.

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned