डीएम की इस अपील पर किसानों ने शुरू की ये पहल और अब....

डीएम अब उन किसानों को सम्मानित भी कर रहे हैं.

चित्रकूट: कोरोना से जंग में जूझ रहे सिस्टम के लिए निराश्रित पशु व गौशालाएं भी किसी चुनौती से कम नहीं. इनकी उदर अग्नि को शांत करने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही है. ऐसे में जब पूरा प्रशासनिक तंत्र लॉकडाउन के पालन में पूरी तन्मयता से लगा हुआ है तब इन बेजुबानों का ख्याल रखना मुश्किलों भरा साबित हो रहा है. ऐसे हालात में जिलाधिकारी ने जनपद के किसानों से एक अपील की और उसका असर ये हुआ कि अन्नदाताओं ने एक के बाद एक डीएम की अपील पर अपनी ओर से पहल करनी शुरू कर दी है. डीएम अब उन किसानों को सम्मानित भी कर रहे हैं.

निराश्रित पशुओं गौशालाओं के लिए चारा पानी आदि की व्यवस्था में लॉकडाउन के चलते दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है प्रशासन को. ऐसे में जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय ने जिले के किसानों से एक अपील की जिसके तहत डीएम ने जनपद के बड़े किसानों से 25 क्विंटल भूसा देने की अपील सोशल मीडिया व मीडिया के माध्यम से की. डीएम ने इसको लेकर एक ट्वीट भी किया और अन्नदाताओं से इस अपील पर आगे आने का अनुरोध किया. अब जिलाधिकारी की अपील का असर भी देखने को मिल रहा है. कई किसान गौशालाओं के लिए 25 कुंतल भूसा आदि देने को आगे आए हैं. अब तक लगभग 648 क्विंटल भूसा दान किया जा चुका है अन्नदाताओं द्वारा. दर्जन भर से अधिक किसान अब तक भूसा दान कर चुके हैं.

जिलाधिकारी ने इन अन्नदाताओं को सम्मानित भी किया है. अपने ट्वीट में डीएम शेषमणि पांडेय ने भूसा दान करने वाले किसानों को खुद सम्मानित करने की बात कही थी. अब जबकि उनकी अपील पर कई अन्नदाता गौवंशों की भूख शांत करने को आगे आए हैं तो डीएम ने भी उन्हें सम्मानित करते हुए उनकी हौंसला अफ़जाई की है. डीएम ने किसानों की तारीफ करते हुए कहा कि उन्हें गर्व है कि जनपद के किसान उनकी अपील पर भूसा दान को आगे आ रहे हैं. उन किसानों को सम्मानित भी किया जा रहा है.

Show More
आकांक्षा सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned