रात में जंगल से आई गोली चलने की आवाज, सुबह ग्रामीणों ने देखा कुछ ऐसा कि इलाके में मच गया हड़कंप

वारदात के बाद सीमा विवाद में उलझी रही खाकी...

चित्रकूट. युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई, जंगल में भेजा उड़ा हुआ शव मिलने से इलाके में सनसनी फ़ैल गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव के शिनाख्त का प्रयास किया लेकिन हाल फ़िलहाल शिनाख्त नहीं हो पाई है। मौके पर 12 बोर तमंचे के कारतूस का खोखा और बीड़ी और माचिस आदि बरामद होने से हत्या की गुत्थी उलझ गई है। मृतक के हांथ में उसका नाम अनिल (हिंदी और अंग्रेजी) में लिखा हुआ है और दूसरे हांथ में बजरंगबली की तस्वीर बनी (गुदी) हुई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए घटना की जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

 

शव मिलने से मचा हड़कंप

जनपद के मऊ थाना क्षेत्र अंतर्गत देऊरा गांव स्थित एक जंगली इलाके में युवक का शव मिलने से हड़कंप मच गया। जंगल में सुबह जब कुछ ग्रामीण पहुंचे तो उन्होंने युवक के शव को देखा जिस पर अन्य ग्रामीणों में भी यह खबर जंगल में आग की तरह फ़ैल गई और आनन फानन में पुलिस को सूचना दी गई।

 

रात में आई थी गोली चलने की आवाज

घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों से पूछताछ करते हुए जब तस्दीक शुरू की तो ग्रामीणों ने बताया कि जंगल की तरफ से देर रात गोली चलने की आवाज आई थी। सुबह उसी इलाके में युवक का शव बरामद हुआ उसका भेजा उड़ा हुआ था जिससे यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि हत्यारों ने कनपटी पर काफी पास से गोली मारी है। मजबूत कद काठी के मृतक युवक की उम्र लगभग 25 वर्ष आंकी गई है। गोली तमंचे से मारी गई है क्योंकि मौके पर 12 बोर के तमंचे की गोली का खोखा बरामद हुआ है।

 

एक हाथ में नाम तो एक में भगवान

मृतक के एक हांथ में अनिल नाम लिखा हुआ है तो दूसरे हांथ में हनुमान का चित्र गुदा हुआ है। वारदात को लेकर थानाध्यक्ष मऊ ने बताया कि सम्भवतः बदला लेने की नियत से युवक को एकदम नजदीक से तमंचे से गोली मारी गई जिससे उसका पूरा भेजा बाहर आ गया। चेहरा बिगड़ने से शिनाख़्त में परेशानी आ रही है। थानाध्यक्ष के मुताबिक जिस जंगली इलाके में वारदात को अंजाम दिया गया है वहां कुछ दिन पहले डकैतों की चहलकदमी हुआ करती थी लेकिन वर्तमान में फ़िलहाल ऐसी कोई आहट डकैतों की नहीं है इलाके में फिर भी पुलिस उस बिंदु पर भी ध्यान केंद्रित करते हुए जांच कर रही है। आस पास के थानों में भी युवक की गुमशुदगी की जांच की जा रही है।

 

सीमा विवाद में फंसा रहा मामला

पुलिस किसी भी मामले में सबकुछ छोड़कर पहले सीमा विवाद के निपटारे में किस कदर उलझती है इसकी बानगी देखने को मिली इस घटना के दौरान भी। जिस इलाके में शव पाया गया वो जंगली इलाकों में आता है और दो थानों मऊ और रैपुरा के बीच पड़ता है। घटना की सूचना पर दोनों थानों की पुलिस तो पहुंची लेकिन मौके पर एक दूसरे की सीमा का मामला बताते हुए छानबीन से कदम पीछे खींचने का प्रयास होने लगा। तत्पश्चात लेखपाल बुलाए गए मौके पर और लगभग 2 घण्टे की माथा पच्ची के बाद घटनास्थल मऊ थाना क्षेत्र की सीमा के अंतर्गत निकला और तब जाकर पुलिस ने कार्रवाई आगे बढ़ाई।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned