सड़क हादसों में तीन की मौत, परिजनों में मचा कोहराम

जनपद में राजापुर थाना क्षेत्र में सड़क दुर्घटनाओं में दो छात्रों समेत तीन की मौत हो गई।

By: Mahendra Pratap

Published: 01 Nov 2017, 03:07 PM IST

चित्रकूट. जनपद में राजापुर थाना क्षेत्र में सड़क दुर्घटनाओं में दो छात्रों समेत तीन की मौत हो गई। घटना से मृतकों के परिवारों में कोहराम मचा हुआ है। सभी उस घड़ी को कोस रहे हैं जब उक्त परिवारों के ये रोशन चिराग़ घर से निकले थे और कुछ समय बाद वापस लौटने का वादा कर गए थे। मृतकों के परिजनों के करुण क्रंदन से पूरा माहौल ग़मगीन हो उठा। तीनों दुर्घटनाएं बाइक चालकों के साथ हुई। तीनों बाइक सवार हेलमेट नहीं पहने थे अन्यथा शायद उनकी जान बच सकती थी।

राजापुर थाना क्षेत्र की घटना

जनपद में अलग अलग सड़क दुर्घटनाओं में काल के प्रहार ने तीन घरों के चिराग़ को असमय मौत की आगोश में पहुंचा दिया। जनपद के राजापुर थाना क्षेत्र के अमवां गांव का निवासी सुखराम अपने दोस्त गौहानी के साथ बाइक से पास बछरन गांव एक निमंत्रण में गया हुआ था। मंगलवार सुबह वापस लौटते समय तेज रफ़्तार अनियंत्रित बाइक पेंड से टकरा गई जिसमें बाइक चालक सुखराम गम्भीर रूप से घायल हो गया। घटनास्थल पर पहुंचे ग्रामीणों ने सुखराम को पहाड़ी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक चार भाईयों में सबसे बड़ा था और मेहनत मजदूरी कर अपने परिवार का पेट पालता था।

कर्वी कोतवाली क्षेत्र की घटना

दूसरी घटना जनपद के कर्वी कोतवाली क्षेत्र के चकमाली गांव के पास हुई। जानकारी के मुताबिक हाईस्कूल का छात्र हेमराज अपने भाई के साथ बाइक चलाना सीख रहा था कि बाइक अनियंत्रित होकर पेंड़ से टकरा गई। गम्भीर रूप से घायल हेमराज को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

पहाड़ी थाना क्षेत्र की घटना

तीसरी दुर्घटना जनपद के पहाड़ी थाना क्षेत्र में हुई। शिवनारायण साहू(20) बीती रात अपने दोस्त मदनलाल के साथ जनपद मुख्यालय कर्वी में एक निमंत्रण में आया था। दोस्त मदनलाल रात में मुख्यालय में ही रुक गया जबकि शिवनारायण साहू वापस गांव लौटने के लिए बाइक से रात में ही निकल पड़ा। जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के बाबूपुर गांव के मोड़ के अज्ञात वाहन ने शिवनारायण को जोरदार टक्कर मार दी। वाहन चालक मौके से वाहन सहित फरार हो गया। इधर गम्भीर रूप से घायल शिवनारायण साहू पर राहगीरों की नजर पड़ी तो तुरंत पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर जब तक पुलिस पहुंची तब तक शिवनारायण ने दम तोड़ दिया था। पहाड़ी थानाध्यक्ष अरुण पाठक ने बताया कि उनके पहुंचने पर घायल की मौत हो चुकी थी। मृतक हेलमेट भी नहीं पहने हुए था। पास में पड़े मोबाईल से मृतक के परिजनों को सुचना दी गई। मृतक शिवनारायण पांच भाईयों में सबसे छोटा था।

घटना के बाद मृतकों के परिजनों में कोहराम मचा है। रात हो या दिन बाइक की तेज रफ़्तार व बड़े वाहनों की भी अनियंत्रित गति अक्सर भीषण दुर्घटनाओं की स्थिति बनती है। रात में कई ऐसे मोड़ हैं विभिन्न प्रमुख मार्गों पर जहां कोई मार्ग संकेत नहीं लगाया गया है और तेज रफ़्तार वाहन चाहे वे बड़े वाहन हों या छोटे, दुर्घटनाओं का सबब बनते हैं। जनपद में जितना अपराध का ग्राफ नहीं है उससे कहीं ज्यादा सड़क दुर्घटनाओं का बढ़ता ग्राफ आए दिन कई जिंदगियों को मौत के मुंह में पहुंचा रहा है।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned