गंगा कावेरी एक्सप्रेस ट्रेन में बदमाशों का धावा, यात्रियों से की लूट, विरोध पर बेरहमी से की पिटाई

गंगा कावेरी एक्सप्रेस ट्रेन में बदमाशों का धावा, यात्रियों से की लूट, विरोध पर बेरहमी से की पिटाई

Akanksha Singh | Publish: Sep, 03 2018 10:52:15 AM (IST) | Updated: Sep, 03 2018 11:32:46 AM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

मुंबई हावड़ा रेलमार्ग के इलाहाबाद मानिकपुर रेलखण्ड पर बदमाशों ने गंगा कावेरी एक्सप्रेस ट्रेन में धावा बोलते हुए यात्रियों के साथ लूट पाट की वारदात को अंजाम दिया।

चित्रकूट. मुंबई हावड़ा रेलमार्ग के इलाहाबाद मानिकपुर रेलखण्ड पर बदमाशों ने गंगा कावेरी एक्सप्रेस ट्रेन में धावा बोलते हुए यात्रियों के साथ लूट पाट की वारदात को अंजाम दिया। विरोध करने पर उनके साथ बेरहमी से मारपीट की गई। धारदार हथियारों व असलहों के बल पर लूट की वारदात को अंजाम दिया गया। जानकारी के मुताबिक लुटेरों ने करीब आधा दर्जन बोगियों में बेख़ौफ़ होकर लूट की। घटना के काफी देर बाद मौके पर पहुंची जिला पुलिस जीआरपी व् आरपीएफ ने बदमाशों की तलाश में सर्च ऑपरेशन शुरू किया। ट्रेन को इलाहाबाद की जोर रवाना किया गया। घायल यात्रियों को इलाहाबाद में भर्ती कराया गया है। घटना से इस मार्ग पर एक बार फिर रेल यात्रियों की सुरक्षा पर सवालिया निशान लग गए हैं।


आउटर पर वारदात को दिया गया अंजाम

चेन्नई से पटना जाने वाली गंगा कावेरी एक्सप्रेस ट्रेन में उस समय असलहाधारी बदमाशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया जब ट्रेन देर रात इलाहाबाद मानिकपुर रेलखण्ड के पनहाई डभौरा रेल ट्रैक के आउटर पर खड़ी थी। जानकारी के मुताबिक ट्रेन आउटर पर खड़ी थी कि इसी दौरान दर्जन भर हथियारबंद बदमाशों ने धावा बोलते हुए यात्रियों के साथ लूट पाट शुरू कर दी। विरोध करने पर यात्रियों को बेरहमी से बन्दूक़ की बटों से पीटा गया जिससे आधा दर्जन यात्री घायल बताए जा रहे हैं। लगभग आधा दर्जन बोगियों(स्लीपर क्लास) में लूट की घटना को अंजाम दिया गया। घटना के बाद बदमाश जंगल की ओर भाग निकले।

मौके पर भारी पुलिस बल बदमाशों की तलाश जारी

घटना के बाद सूचना पर डीआईजी रेंज चित्रकूटधाम मनोज तिवारी पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार झा भारी पुलिस बल के साथ पहुंचे साथ ही जीआरपी व् आरपीएफ की टीमें भी घटनास्थल पर पहुंची। डरे सहमे यात्रियों से जानकारी लेते हुए बदमाशों की तलाश में कॉम्बिंग शुरू की गई। उधर वारदात के बाद रेल प्रशासन में भी हड़कम्प मच गया। इलाहाबाद मण्डल से कई रेलवे अधिकारी घटनास्थल पहुंचे और ट्रेन को इलाहाबाद की ओर रवाना किया गया। घायल यात्रियों को इलाहाबाद में भर्ती कराया गया है।

यात्रियों की सुरक्षा पर सवाल

ट्रेन में हुई इस वारदात के बाद एक बार फिर रेल यात्रियों की सुरक्षा पर सवालिया निशान लग गए हैं। इलाहाबाद मानिकपुर रेलखण्ड के दरम्यान कई जगहों पर घने जंगल व् बीहड़ के इलाके पड़ते हैं और मध्य प्रदेश की सीमा भी लगती है। मुम्बई हावड़ा रेलमार्ग होने के कारण यह अति व्यस्ततम रेल मार्गों में गिना जाता है सो अक्सर एक्सप्रेस ट्रेनों को आउटर पर रोक दिया जाता है अन्य ट्रेनों को पास कराने के लिए। इस दौरान घने जंगल बीहड़ के बीच यात्रियों की सुरक्षा ताक पर रखी जाती है। ऐसा नहीं कि इस रेलखण्ड पर लूट की यह कोई पहली वारदात हो बल्कि इससे पहले भी कई घटनाएं हो चुकी हैं लेकिन न तो रेल प्रशासन और न ही पुलिस को इससे अब तक कोई सबक मिला है।

Ad Block is Banned