थाने से चंद कदम दूर बाहुबली सपा नेता पर ताबड़तोड़ फायरिंग, भतीजे की मौत, इलाके में सनसनी

गंभीर रूप से घायल नेता के भतीजे को इलाहाबाद ले जाया जा रहा था कि रास्ते में उसकी मौत हो गई...

चित्रकूट. यूपी की खाकी भले ही लाख दावे करे कानून व्यवस्था को सुदृढ़ करने को लेकर लेकिन आए दिन हो रही खौफनाक वारदातें खाकी के सारे दावों की धज्जियां उड़ाती नजर आती हैं। ताबड़तोड़ एनकाउंटर और अपराधियों को सलाखों के पीछे पहुंचाने का दम्भ भरती योगी सरकार को बेखौफ अपराधी जब चाहते हैं तब खुली चुनौती दे देते हैं। कुछ ऐसी ही खौफनाक वारदात को बेखौफ तरीके से अंजाम दिया गया चित्रकूट में जहां थाने से चंद कदम दूर स्थित तहसील गेट के सामने स्कॉर्पियो सवार हमलावरों ने इलाके के ही एक बाहुबली सपा नेता उग्रसेन मिश्रा पर ताबड़तोड़ गोलियों की बौछार कर सनसनी फैला दी।

 

नेता के भतीजे की मौत

हमले में उग्रसेन मिश्रा का भतीजा दुर्गेश मिश्रा गंभीर रूप से घायल हो गया जिसे इलाज के लिए इलाहाबाद ले जाया जा रहा था कि रास्ते में उसकी मौत हो गई। घटना को लेकर बाहुबली नेता की इलाके के ही एक अन्य पूर्व ब्लाक प्रमुख और बाहुबली नेता जिसकी कुछ साल पहले गोली मारकर हत्या कर दी गई थी उसके परिवार से रंजिश की बात सामने आई है। पुलिस का कहना है कि हमलावरों की तलाश जारी है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। नेता के भतीजे की मौत से इलाके में तनाव व्याप्त है।

 

फिल्मी अंदाज में बनाया निशाना

बेखौफ हमलावरों ने फ़िल्मी अंदाज में ताबड़तोड़ गोलियां बरसाते हुए बाहुबली नेता और साथ चल रहे लोगों को निशाना बनाया, जानलेवा हमले में नेता तो बच गया लेकिन उसका भतीजा गोलियों से छलनी हो गया। आनन फानन में घायल भतीजे को इलाहाबाद लेकर भागा गया लेकिन शंकरगढ़ (इलाहाबाद) के पास उसकी मौत हो गई। पुलिस हमलावरों की तलाश में जुटी है।

 

थाने से चंद कदम दूर हुआ हमला

घटना जनपद के मऊ थाना क्षेत्र की है। जानकारी के मुताबिक मऊ से 12 किलोमीटर दूर जनपद के ही बरगढ़ थाना क्षेत्र निवासी बाहुबली नेता उग्रसेन मिश्रा काले रंग की स्कॉर्पियो से अपने भतीजे दुर्गेश मिश्रा और कुछ अन्य साथियों के साथ मऊ किसी काम से आए थे। वापस लौटते समय थाने से थोड़ी दूर स्थित तहसील गेट के सामने जैसे ही उनकी स्कॉर्पियो पहुंची कि पहले से घात लगाए हमलावरों ने उनपर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। जब तक बाहुबली नेता और उसके आदमी संभल पाते तब तक हमलावर वारदात को अंजाम देते हुए इलाहाबाद की ओर फरार हो गए।

 

गोलियों से छलनी हुआ भतीजा

हमले में नेता का भतीजा दुर्गेश मिश्रा गंभीर रूप से घायल हो गया। गोलियों की तड़तड़ाहट के बीच छलनी हुए भतीजे को गंभीरावस्था में इलाज के लिए इलाहाबाद ले जाया जा रहा था कि रास्ते में शकरगढ़ के पास उसने दम तोड़ दिया। दुर्गेश की मौत से पूरे बरगढ़ इलाके में सनसनी फ़ैल गई और तनाव व्याप्त हो गया।

 

भारी पुलिस बल तैनात

घटना की सूचना पर भारी पुलिस बल के साथ मऊ व् बरगढ़ थाना क्षेत्र में एसपी मनोज कुमार झा एडिशनल एसपी बलवंत चौधरी ने हमलावरों की तलाश में नाकेबंदी की लेकिन सफलता नहीं मिली। उधर बाहुबली नेता के मृतक भतीजे के शव को बरगढ़ ले जाया गया। वहां भी पुलिस की कई टीमें मौजूद रहीं।

 

पुरानी रंजिश के चलते बरसाई गई ताबड़तोड़ गोलियां

घटना को लेकर बाहुबली उग्रसेन मिश्रा की मऊ थाना क्षेत्र के ही एक अन्य बाहुबली नेता रहे पप्पू द्विवेदी से पुरानी अदावत की बात सामने आ रही है। पप्पू द्विवेदी की हत्या कुछ वर्ष पहले इलाहाबाद के शिवराजपुर इलाके में की गई थी जिसमें उग्रसेन मिश्रा का नाम आया था। पप्पू उस समय मऊ ब्लाक (चित्रकूट) के ब्लाक प्रमुख थे। उसी घटना के बाद उग्रसेन और पप्पू के परिवार के बीच खूनी रंजिश का बीजारोपण हो गया।

 

जल्द गिरफ्त में होंगे हमलावर

इस पूरी वारदात को लेकर एसपी मनोज कुमार झा ने कहा कि हमलावरों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पुलिस की कई टीमों को हमलावरों की तलाश में लगाया गया है। मामले को लेकर थानाध्यक्ष मऊ सत्यपाल सिंह ने बताया कि पूर्व ब्लाक प्रमुख पप्पू द्विवेदी के लड़के अनिल का नाम घटना को लेकर सामने आ रहा है फ़िलहाल जांच जारी है।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned