शिक्षकों ने थाना घेरा, सीओ पर मारपीट का आरोप, विद्यालय बंद करने की चेतावनी

शिक्षकों ने थाना घेरा, सीओ पर मारपीट का आरोप, विद्यालय बंद करने की चेतावनी

Ruchi Sharma | Publish: Jan, 13 2018 04:38:59 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

शिक्षकों ने थाना घेरा, सीओ पर मारपीट का आरोप, विद्यालय बंद करने की चेतावनी

चित्रकूट. जिले में शिक्षकों और पुलिस वालों के झगड़े के बाद बढ़े विवाद में शिक्षक संघ ने थाने का घेराव कर जमकर नारेबाजी की। इससे शिक्षण कार्य प्रभावित हुआ। बात-विवाद रास्ते में जेसीबी खड़ी होने पर हुआ। इस वजह से जब एक शिक्षक अपना वाहन नहीं निकाल पाए तो मौके पर पहुंचे सीओ ने शिक्षक से गाली गलौज करते हुए उनसे मारपीट की।

प्राथमिक विद्यालय में तैनात एक हेडमास्टर ने आरोप लगाया है कि घटना की सूचना पर शिक्षक संघ के पदाधिकारियों व अन्य शिक्षकों ने विरोधस्वरूप थाने का घेराव करते हुए एसडीएम व एसपी को सीओ के खिलाफ कार्यवाही के लिए ज्ञापन सौंपा। आक्रोशित शिक्षकों का कहना है कि यदि सीओ के खिलाफ कोई ठोस कार्यवाही नहीं होती है तो सडक़ पर उतरकर आंदोलन किया जाएगा। उधर पूरे मामले को सीओ ने निराधार बताया है।

गाली-गलौज का आरोप

जनपद के मऊ थाना क्षेत्र स्थित बस स्टैंड पर उस समय अफरा-तफरी का माहौल उत्पन्न हो गया जब प्राथमिक विद्यालय में तैनात हेडमास्टर ने सीओ मऊ विनीत सिंह पर मारपीट करते हुए गाली गलौज करने का आरोप लगाया। दरअसल, मामला कुछ यूं है कि मऊ थाना क्षेत्र अंतर्गत मण्डौर गांव में स्थित प्राथमिक विद्यालय में बतौर हेडमास्टर तैनात गौरव सिंह अपने वाहन से विद्यालय जाने के लिए निकले थे कि बस स्टैंड पर जेसीबी खड़ी थी जिसकी वजह से उन्हें वाहन निकालने में दिक्कत हो रही थी। इस दौरान सीओ मऊ विनीत सिंह उनके पास आकर गाली गलौज करने लगे, शिक्षक के मुताबिक उन्होंने जब सीओ के इस व्यवहार का विरोध किया तो उन्हें सीओ ने पीट दिया।

थाने को सौंपा ज्ञापन

घटना की सूचना जब प्राथमिक शिक्षक संघ को हुई तो कई पदाधिकारी और शिक्षक मऊ थाने पहुंच गए और सीओ के खिलाफ नारेबाजी करते हुए एसडीएम मऊ को कार्यवाही के लिए ज्ञापन सौंपा। मुख्यालय में एसपी प्रताप गोपेंद्र को शिक्षकों ने ज्ञापन सौंपते हुए सीओ मऊ के खिलाफ कार्यवाही की मांग की।

कार्रवाई न हुई तो विद्यालय बंद

शिक्षक संघ के अध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय का कहना है कि यदि मामले में कार्यवाही नहीं की जाती तो आगामी दिनों में सडक़ पर उतरकर आंदोलन किया जाएगा। 15 तारीख से विद्यालय भी बंद किए जाएंगे। उधर इस पूरे मामले में एसपी प्रताप गोपेन्द्र ने जांच का भरोसा दिया है। जबकि सीओ मऊ जिनपर मारपीट का आरोप लगा है उन्होंने पूरे मामले को निराधार बताया है।

Ad Block is Banned