50 हजार का इनामी कुख्यात डकैत"लूलू पटेल" गिरफ्तार यूपी एमपी से लेकर महाराष्ट्र तक थी तलाश

50 हजार का इनामी कुख्यात डकैत

Akansha Singh | Publish: Dec, 08 2018 10:17:38 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

डकैत लूलू उस समय कानून की हिटलिस्ट में आया जब इसी वर्ष सितम्बर माह में उसने अपने गैंग के साथ मिलकर मुंबई हावड़ा रेलमार्ग पर स्थित इलाहाबाद मानिकपुर(चित्रकूट) रेलखण्ड के पनहाई स्टेशन के पास गंगा कावेरी एक्सप्रेस ट्रेन में लूट की बड़ी वारदात को अंजाम दिया था

चित्रकूट: गैंग बनाकर ट्रेनों में लूट व डकैती जैसी जघन्य वारदातों को अंजाम देकर जीआरपी आरपीएफ व् पुलिस के लिए चुनौती बने 50 हजार के इनामी कुख्यात डकैत लूलू को जीआरपी ने प्रयागराज से गिरफ्तार कर लिया. खाकी के हत्थे चढ़े डकैत के पास से तमंचा कारतूस सहित नगद रूपये बरामद हुए हैं. डकैत लूलू उस समय कानून की हिटलिस्ट में आया जब इसी वर्ष सितम्बर माह में उसने अपने गैंग के साथ मिलकर मुंबई हावड़ा रेलमार्ग पर स्थित इलाहाबाद मानिकपुर(चित्रकूट) रेलखण्ड के पनहाई स्टेशन के पास गंगा कावेरी एक्सप्रेस ट्रेन में लूट की बड़ी वारदात को अंजाम दिया था. इस वारदात में गैंग के हमले में आधा दर्जन यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए थे.

 

सिरदर्द था दस्यु सरगना लूलू पटेल


अपनी अय्याशियों को पूरा करने के लिए अपराध की दुनिया में उतरा शातिर लुटेरा लूलू पटेल उर्फ़ रामसिया निवासी बरगढ़ चित्रकूट पिछले कई महीनों से दो राज्यों की जीआरपी आरपीएफ व पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ था. चोरी लूट छिनैती की छोटी बड़ी वारदातों को अंजाम देते हुए एक बड़ी गैंग तैयार करने वाला लूलू पिछले कुछ समय से वीआईपी ट्रेनों को टारगेट करता अपने नापाक मंसूबों को अंजाम देने के लिए. इसी वर्ष 2/3 सितम्बर की देर रात पनहाई रेलवे स्टेशन के पास चेन्नई से पटना जा रही गंगा कावेरी एक्सप्रेस ट्रेन में लूट की जघन्य वारदात को अंजाम देकर लूलू गैंग ने खाकी को खुली चुनौती दी थी. वारदात में लगभग 20 लाख की लूट हुई थी और विरोध करने पर आधा दर्जन यात्रियों को तमंचे की बट और चाकू मारकर बुरी तरह घायल कर दिया गया था.


जीआरपी ने किया गिरफ़्तार


पिछले कुछ वर्षों से जीआरपी आरपीएफ व पुलिस के लिए हल्की हवा बना लूलू पटेल गंगा कावेरी लूटकांड के बाद खाकी की हिटलिस्ट में आ गया. इस बड़ी वारदात के बाद रेलवे से लेकर खाकी के अफ़सरानों को भी इस गैंग के खतरनाक मंसूबों का पता चला और फिर यूपी से लेकर एमपी(मध्य प्रदेश) व महाराष्ट्र तक लूलू की तलाश में जीआरपी आरपीएफ व पुलिस का कम्पास घूमने लगा. जांच के दौरान मध्य प्रदेश में भी हुई कई छोटी बड़ी ट्रेन डकैतियों में इस गैंग का नाम आया. शुक्रवार की देर रात जीआरपी ने 50 हजार के इनामी डकैत लूलू पटेल को इलाहाबाद जंक्शन के पास वाशिंग लाइन से गिरफ्तार कर लिया. जीआरपी इंस्पेक्टर रघुवीर सिंह के मुताबिक देर रात चेकिंग के दौरान लूलू को गिरफ्तार किया गया इस दौरान उसने तमंचे से फायर भी किया जिससे टीम के लोग बाल बाल बच गए और टीम ने दौड़ाकर कुख्यात लूलू पटेल को धर दबोचा. जीआरपी के मुताबिक लूलू के पास से लूट के गहने, 6 मोबाईल तमंचा व कारतूस तथा नकदी समेत लाखों का माल बरामद हुआ.


अन्य सदस्य पहले चढ़ चुके हैं खाकी के हत्थे


इससे पहले गैंग के आधा दर्जन सदस्य मानिकपुर(चित्रकूट) जीआरपी के हत्थे चढ़ चुके हैं. आईजी रेलवे बीआर मीणा ने लूलू पटेल पर 50 हजार का इनाम घोषित किया था. गंगा कावेरी लूटकांड के बाद एडीजी रेलवे वीके मौर्या व आईजी रेलवे बीआर मीणा एसपी रेलवे झांसी पीके मिश्रा ने लगातार कई दिनों तक मानिकपुर में कैम्प किया था क्योंकि इस लूट के बाद दिल्ली से लेकर लखनऊ तक रेलवे प्रशासन में हड़कम्प मच गया था.

Ad Block is Banned