ओलावृष्टि से भारी नुकसान, बाजार में सब्जियों के रेट में जल्द भारी उछाल

ओलावृष्टि ने बढ़ाई अन्नदाताओं के माथे पर चिंता की लकीरें फसलों को खासा नुकसान

 

 

चित्रकूट. बादलों की गड़गड़ाहट के साथ बारिश व ओलो के प्रहार ने किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी है। कई इलाकों में छोटे बड़े व मध्यम आकार के आसमानी ओलो ने अंगड़ाई लेने के मुहाने पर खड़ी रबी की फसलों को काफी हद तक नुकसान पहुंचा दिया है। आसमान की ओर निहारता अन्नदाता ऊपरवाले से अब रहम की उम्मीद कर रहा है कि आगे अब मौसम की मार इस तरह न पड़े। फसलों के नुकसान के चलते बजारों में बिकने वाली सब्जियों में भी भारी उछाल आएगा।


कई इलाकों में गिरे ओले


बुद्धवार देर शाम से शुरू ही हल्की व तेज बारिश के साथ कई ग्रामीण इलाकों में देर रात गिरे आसमानी ओलो ने खेत खलिहानों में निराशा का माहौल पैदा कर दिया है। गोली की रफ्तार से गिरते ओलो को बतौर सबूत एकत्र करने के लिए कई किसान खेत में ही मचान बनाकर नुकसान का आंकलन करते रहे। जनपद के मानिकपुर व मऊ विकासखण्ड के कई इलाकों में ओलावृष्टि हुई। जानकारी के मुताबिक सड़क मार्ग में ओले गिरने की वजह से कई बाइक सवार दुर्घटनाग्रस्त होते होते बचे।


रबी की फसलों को खासा नुकसान


ओलावृष्टि की वजह से चना गेहूं अरहर सरसों जैसी रबी की फसलें काफी हद तक प्रभावित हो गई हैं। किसान इंद्रेश त्रिपाठी अवध नारायण त्रिपाठी दिलीप मिश्र आदि के मुताबिक बारिश ने तो फसलों को नुकसान पहुंचाया ही था लेकिन ओलावृष्टि की वजह से कई कई बीघे की फसल पूरी तरह से प्रभावित हो गई है। आशंका है कि आने वाले दिनों में कहीं और मार न पड़े मौसम की।


ठिठुरन भी बढ़ी


बारिश व ओलावृष्टि की वजह से ठिठुरन भी बढ़ गई है। ग्रामीण इलाकों में इसका प्रभाव कुछ ज्यादा ही देखने को मिल रहा है। हल्की धुंध के पीछे छिपे सूर्यदेव की निगहबानी भी धूप के रूप में परिवर्तित नहीं हो पा रही है।

Show More
Ruchi Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned