चित्तौड़गढ़ में एक ही दिन में सात लोगों की मौत, प्रशासन में मचा हड़कंप

कोरोना संक्रमण के दौर में बीते बीस घंटे चित्तौडगढ़़ में सात लोगों की मौत हो गई। इनमें से पांच लोगों ने सांवलियाजी राजकीय जिला चिकित्सालय में दम तोड़ दिया।

By: kamlesh

Published: 17 Apr 2021, 08:36 PM IST

चित्तौडगढ़। कोरोना संक्रमण के दौर में बीते बीस घंटे चित्तौडगढ़़ में सात लोगों की मौत हो गई। इनमें से पांच लोगों ने सांवलियाजी राजकीय जिला चिकित्सालय में दम तोड़ दिया हालांकि इनमें से एक को भी कोरोना कर्न्फम नहीं था लेकिन इन सभी को लक्ष्ण वहीं थे और ऑक्सीजन लेवल में कमी के कारण सभी ने दम तोड़ा दिया। वहीं एक व्यक्ति की कोविड अस्पताल में शनिवार दोपहर बाद दम तोड़ दिया और एक महिला ने अपने घर पर ही मौत हो गई। जिसका कोरोना प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया गया। एक साथ इतनी मौतें होने से एक बाद तो चिकित्सा विभाग एवं प्रशासन में हड़कम्प मच गया।

जिला कोविड अस्पताल में भर्ती कपासन निवासी 45 वर्षीय एक फार्मासिस्ट की कोरोना संक्रमण के चलते शनिवार को जिला कोविड अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। वहीं शहर के उदयपुर मार्ग पर रहने वाली ब्रह्मपुरी में एक निजी विद्यालय की शिक्षिका गत 12 अप्रेल बीमार थी और वह घर पर ही उपचार करा रही थी। जिसका शनिवार सुबह निधन हो गया। इसके बाद आस-पड़ोस के लोगों ने हंगामा खड़ा कर दिया। वे मृतका एवं उसके परिवार की कोविड जांच कराने की मांग करने लगे। सूचना पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रामकेश गुर्जर भी मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाइश की। बाद में नगर परिषद से शव का कोविड गाइडलाइन के अनुसार अंतिम संस्कार करवाया गया।

सभी का अंतिम संस्कार कोविड के अनुसार
हालांकि सात में से एक ही मौत कोविड से होने की पुष्टि हुई लेकिन इसके बाद भी सभी मृतकों के परिवार जनों को अंतिम संस्कार कोविड गाइडलाइन के अनुसार करने के लिए पाबंद किया गया। सभी सातों शवों को पॉलीपैक में पैक करके दिया गया है।

यह रहा संदिग्धों की मौत का कारण
जिला अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में जिन पांच लोगों की की मौत हुई है। उनमें से चार ने कोरोना की जांच होने से पहले ही दम तोड़ दिया लेकिन सभी को एक ही लक्षण था। उन्हें श्वांस लेने में तकलीफ हो रही थी और ऑक्सीजन लेवल भी काफी कम था।

किसी की 30 मिनट तो किसी की दो घंटे में टूटी जिन्दगी की डोर
जिला अस्पताल में जिन पांच लोगों की मौत हुई उनमें किसी की आधा घंटे में तो किसी की दो घंटे में जिन्दगी की डेर टूट गइ्र। उन्हें पूरा उपचार मिल सके इतना समय भी नहीं मिल पाया।
चित्तौडगढ़ में जिला अस्पताल में बस्सी निवासीएक 25 वर्षीय युवक को शुक्रवार रात को करीब 11 बजकर 39 मिनट पर गंभीर हालत में भर्ती काराया गया। इसे बुखार एवं श्वांस लेने में तकलीफ हो रही थी। इसका ऑक्सीजन लेवल 20 प्रतिशत था। जिसने उपचार के दौरान करीब एक घंटे में रात 12 बजकर 40 मिनट पर दम तोड़ दिया।

इसी तरह से मोतीपुरा निम्बाहेड़ा निवासी एक 43 वर्षीय व्यक्ति को निम्बाहेड़ा के उप जिला अस्पताल से यहां पर रैफर किया गया जिसे रात करीब 3 बजकर 07 मिनट पर जिला चिकित्सालय के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया। इसे भी श्वास लेने में तकलीफ थी और ऑक्सीजन लेवल 42 प्रतिशत था जिसके चलते उपचार के दौरान करीब दो घंटे में तड़के 5 बजकर 15 मिनट पर मौत हो गई।

वहीं शनिवार तड़के 5.11 बजे रोलिया कपासन निवासी एक 56 वर्षीय व्यक्ति को गंभीर हालत में लाया गया था। इसे गैस पेन की शिकायत थी और वह पिछले पांच छह दिनों से बुखार एवं खासी से भी पीडि़त था। उपचार के दौरान जिला अस्पताल में करीब आधा घंटे 5 बजकर 45 मिनट पर ही दम तोड़ दिया।

वहीं निम्बाहेड़ा की एक 50 वर्षीय महिला को भी शनिवार सुबह 10 बजकर 17 मिनट पर जिला चिकित्सालय में श्वांस में की तकलीफ के चलते भर्ती करायागया। जिसका ऑक्सीजन लेवल 10 प्रतिशत चल रहा था। जिसमें पौन घंटे में 11 बजे ही उपचार के दौरान दम तोड़ा दिया।

वहीं गोपालपुरा बेगूं निवासी एक वृद्ध को गत 15 अप्रेल को दोपहर करीब 12 बजे सांस में तकलीफ, खांसी एवं बुखार के चलते आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया। इसके बाद 16 अप्रेल केा कोरोना की जांच हुई लेकिन रिपोर्ट स्पष्ट नहीं आई। जिसका शनिवार सुबह करीब सवा तीन बजे अचानक दिल का दौरा पडऩे से उसकी मौत हो गई।

इनका कहना है...
जिला अस्पताल में एक महिला सहित पांच लोगों की मौत हुई है। हालाकि इनमें कोई भी कोरोना पॉजिटिव नहीं था लेकिन श्वांस आदि में तकलीफ से मौत हुई कोई आने के आधे घंटे में तो कोई दो घंटे में दम तोड़ गया। वहीं एक की कोरोना जांच हुइ्र लेकिन उसकी रिपोर्ट आने से पहले ही उसकी मृत्यु हो गई। सभी को संदिग्ध मानते हुए अंतिम संस्कार कोरोना प्रोटोकॉल के तहत करने के लिए कहा गया है।

डॉ. दिनेश वैष्णव, पीएमओ, सांवलियाजी राजकीय जिला चिकित्सालय चित्तौडगढ़

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned