scriptAfter the morning meal, the district chief slept outside the police st | सुबह के भोजन के बाद थाने के गेट के बाहर ही सो गए जिला प्रमुख | Patrika News

सुबह के भोजन के बाद थाने के गेट के बाहर ही सो गए जिला प्रमुख

-चित्तौडग़ढ़. मुख्यालय स्थित जल ग्रहण विकास एवं भू-संरक्षण विभाग के भवन में किराए पर संचालित हो रहे सदर थाने को खाली करवाने के लिए मंगलवार को जिला प्रमुख सुरेश धाकड़ थाने के मुख्य द्वार पर दरी बिछाकर धरने पर बैठ गए।

चित्तौड़गढ़

Published: June 07, 2022 10:13:56 pm

-चित्तौडग़ढ़. मुख्यालय स्थित जल ग्रहण विकास एवं भू-संरक्षण विभाग के भवन में किराए पर संचालित हो रहे सदर थाने को खाली करवाने के लिए मंगलवार को जिला प्रमुख सुरेश धाकड़ थाने के मुख्य द्वार पर दरी बिछाकर धरने पर बैठ गए। अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन गीतेश श्रीमालवीय ने मौके पर पहुंच वार्ता की और एक माह में समस्या का समाधान करने का भरोसा दिलाया। इसके बाद जिला प्रमुख ने धरना समाप्त कर दिया।
जल ग्रहण विकास एवं भू-संरक्षण विभाग जिला परिषद के अधीन होने से सदर थाने का भवन जिला परिषद की संपति है। जिला प्रमुख धाकड़ ने बताया कि यह भवन सदर थाना पुलिस को वर्ष २०१२ में २४ हजार ७१३ रूपए के मासिक किराए पर दिया था। अनुबंध में हर साल दस प्रतिशत किराया बढाने की शर्त भी थी। जब से भवन किराए पर दिया, तब से ही पुलिस ने किराया जमा नहीं करवाया। अब बकाया किराए की राशि करीब साठ लाख रूपए हो गई है। जिला प्रमुख ने कहा कि फरवरी में भी गुलाब के फूल भेंट कर पुलिस से यह भवन खाली करने का आग्रह किया था।
किराया जमा नहीं करवाने व भवन खाली नहीं करने पर मंगलवार को सुबह करीब सवा दस बजे जिला प्रमुख सुरेश धाकड़ सदर थाने पहुंचे और वहां थाने के मुख्य द्वार पर ही दरी बिछाकर धरने पर बैठ गए। वे भवन खाली करने या बकाया किराया जमा करवाने की मांग कर रहे थे। जिला प्रमुख के धरने पर बैठने की सूचना पर पुलिस उप अधीक्षक बुद्धराज टांक, सदर थाना प्रभारी हरेन्द्रसिंह सौदा मौके पर पहुंच गए। थाने का जाप्ता भी वहां तैनात हो गया। जिला प्रमुख ने सुबह का भोजन भी धरना स्थल पर ही किया और बाद में थाने के द्वार के बाहर ही सो गए। इससे पहले जिला प्रमुख थाने को बंद करने के लिए ताला और सांकळ भी साथ लाए। जिला प्रमुख ने कहा कि वे थाने के गेट पर ताला लगाएंगे, तो वहां मौजूद थाना प्रभारी सौदा ने कहा कि वे ऐसा नहीं होने देंगे। सौदा ने कहा कि जिला प्रमुख को उच्च अधिकारियों से इस संबंध में बात करनी चाहिए, ताकि समस्या का सम्मानजनक समाधान हो सके। जिला प्रमुख उच्च अधिकारी को मौके पर बुलाने की मांग करने लगे। उन्होंने कहा कि सदर थाना पुलिस जिला परिषद की संपति पर अवैध कब्जा किए हुए हैं, तब थाना प्रभारी ने कहा कि सभी भवन राज्य सरकार के हैं। पुलिस तो आमजन को सेवाएं दे रही हैं। उन्होंने कहा कि भवन पर अवैध कब्जा नहीं है, बल्कि किराए पर संचालित हो रहा है।
After the morning meal, the district chief slept outside the police station gate.
After the morning meal, the district chief slept outside the police station gate.
मौके पर पहुंचे एडीएम
जानकारी मिलने पर अतिरिक्त जिला कलक्टर गीतेश श्रीमालवीय सदर थाने पहुंचे और वहां धरने पर बैठे जिला प्रमुख सुरेश धाकड़ से इस भवन को लेकर वार्ता की। श्रीमालवीय ने जिला प्रमुख को भरोसा दिलाया कि एक माह में इस समस्या का हल निकाल लिया जाएगा। इस आश्वासन के बाद जिला प्रमुख ने धरना समाप्त कर दिया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में हैदराबाद में शुरू हुई BJP राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठकUdaipur Kanhaiya Lal Murder Case में बड़ा खुलासा: धमकियों के बीच कन्हैयालाल ने एक सप्ताह पहले ही लगवाया था CCTV, जानिए पुलिस को क्या मिला...Udaipur Kanhaiya Lal Murder Case : कोर्ट तक यूं सुरक्षित पहुंचे कन्हैया हत्याकांड के आरोपी लेकिन...ऋषभ पंत 146, रवींद्र जडेजा 104, टीम इंडिया का स्कोर 416, 15 साल बाद दोनों ने रच दिया बड़ा इतिहासMumbai: बीजेपी सांसद हेमा मालिनी ने मुंबई की सड़कों पर गड्ढों को देखकर जताई चिंता, किया पुराने दिनों को याद250 मिनट में पूरा हुआ काशी का सफर, कानपुर-वाराणसी सिक्स लेन का स्पीड ट्रायल सफलनूपुर शर्मा के खिलाफ कोलकाता पुलिस ने जारी किया लुकआउट नोटिस, समन के बाद भी नहीं हुई हाजिरMaharashtra Politics: देवेंद्र फडणवीस किसके कहने पर महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम बनने के लिए हुए तैयार, सामने आई बड़ी जानकारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.