कफ्र्यू की छूट ने किस शहर को बांट दिया दो हिस्सों में

एक माह से अधिक समय से जारी कफ्र्यू में शुक्रवार को राहत तो मिली लेकिन ये पूरे नगर को नहीं मिलकर उन 25 वार्ड क्षेत्रो में ही मिली जिनको जिला प्रशासन ने छूट के दायरे में लिया। शेष बीस वार्डो में कफ्र्यू पूर्ववत जारी रहा।खास तथ्य ये भी रहा कि जिन वार्डो में कफ्र्यूू रहा उनमें नगर के अधिकतर मुख्य बाजार शामिल है। कुछ ऐसे वार्ड भी कफ्र्यू के दायरे में रखे गए जिनमें अब तक संक्रमित केस नहीं मिला है।

By: Nilesh Kumar Kathed

Published: 30 May 2020, 11:47 PM IST

चित्तौडग़ढ़/निम्बाहेड़ा. एक माह से अधिक समय से जारी कफ्र्यू में शुक्रवार को राहत तो मिली लेकिन ये पूरे नगर को नहीं मिलकर उन 25 वार्ड क्षेत्रो में ही मिली जिनको जिला प्रशासन ने छूट के दायरे में लिया। शेष बीस वार्डो में कफ्र्यू पूर्ववत जारी रहा।खास तथ्य ये भी रहा कि जिन वार्डो में कफ्र्यूू रहा उनमें नगर के अधिकतर मुख्य बाजार शामिल है। कुछ ऐसे वार्ड भी कफ्र्यू के दायरे में रखे गए जिनमें अब तक संक्रमित केस नहीं मिला है। छूट के पैमानों को लेकर कई लोग असंतुष्ट नजर आए। मुख्य बाजार बंद रहने से छूट के बावजूद लोगों को अधिक लाभ नहीं मिल पाया।
कफ्र्यू की छूट ने नगर को दो भागों में विभक्त कर दिया। नगर के भीतरी हिस्से को कफ्र्यूग्रस्त ही रखा गया और शहर के बाहरी इलाके को खोल देने के आदेश जारी कर दिए। प्रशासन द्वारा घोषित कफ्र्यूग्रस्त इलाके के तहत रेलवे स्टेशन से लेकर शेखावत सर्कल तक का इलाका आ गया। करीब 80 प्रतिशत रोजमर्रा की सामग्री की दुकानेे इन्हीं क्षेत्रों में आती है।
नगर का भीतरी हिस्सा जो कि पुराना शहर कहलाया जाता है उसी के अंतर्गत पूरा व्यवसाय लोगो का संचालित होता है। आदेशो में यह स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि कफ्र्यूग्रस्त इलाको के रहवासी अपने घरों से नही निकल सकते है और अपना प्रतिष्ठान नही खोल सकते है इस बेतरतीब आदेश से कई दुकानदारो ने नाराजगी जाहिर की ओर कहा कि जो इलाका कंटेन्मेंट जोन या उसके आसपास भी नही है उस इलाके को भी सरकार के इन आदेशों में बन्द कर दिया गया है। सोशल मीडिया पर भी लोगो ने इस छूट के आदेश की विसंगति को लेकर संदेश डाले। कई दुकानदारों को ऐसी स्थिति का सामना भी करना पड़ रहा था कि उनका घर व दुकान दोनों छूट के दायरे मे आ रहा है लेकिन घर से दुकान जाने के लिए कफ्र्यू ग्रस्त इलाके से गुजरना पड़ता जंहा से पुलिस कर्मी जाने नही दे रहे थे।
एक माह बाद दुकानों की साफ सफाई
नगर के बाहरी हिस्से में छूट मिलने के पश्चात कई दुकानों के शहर आज खुले दुकानदारों ने एक माह बाद दुकानों की साफ सफाई की। खुलने वाली दुकानों में ज्यादातर दुकान ऑटोमोबाइल, सर्विस सेंटर, गाड़ी शोरूम, ट्रेक्टर शोरूम सहित, पेंट्स की दुकान रही। शहर के प्रमुख एक स्टोर पर आज दुकान के खुलते ही लोगो की भीड़ उमड़ पड़ी। संचालक पारस सांड के अनुसार सोशल डिस्टेंडिंग का पूरा पालन करते हुवे उन सभी व्यक्तियों को सामान बारी बारी से उपलब्ध कराया गया जिन्होंने मास्क पहना हुआ था।

Nilesh Kumar Kathed Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned