scriptDiesel prices set fire to items of common need, century has been going | डीजल की कीमतों ने लगाई आम जरूरत की वस्तुओं में आग, तीन दिन से लगा रहा शतक | Patrika News

डीजल की कीमतों ने लगाई आम जरूरत की वस्तुओं में आग, तीन दिन से लगा रहा शतक

पेट्रोल-डीजल की लगातार बढती कीमतों ने आम जरूरत की वस्तुओं के भावों में आग लगा दी है। डीजल के भाव पिछले तीन दिन से शतक लगा रहे हैं, वहीं पेट्रोल के भाव भी ११७ रूपए प्रति लीटर से पार हो गए हैं। खासतौर पर डीजल महंगा होने से ट्रांसपोर्टेशन की दरें बढी है और इससे ेजरूरत की वस्तुओं के भाव आसमान पर है। हालत यह है कि आसमान छू रही महंगाई के चलते गरीब और मध्यम वर्गीय परिवारों के घरों का बजट बुरी तरह से लडख़ड़ा गया है।

चित्तौड़गढ़

Published: April 09, 2022 09:28:50 pm

चित्तौडग़ढ़
पेट्रोल-डीजल की लगातार बढती कीमतों ने आम जरूरत की वस्तुओं के भावों में आग लगा दी है। डीजल के भाव पिछले तीन दिन से शतक लगा रहे हैं, वहीं पेट्रोल के भाव भी ११७ रूपए प्रति लीटर से पार हो गए हैं। खासतौर पर डीजल महंगा होने से ट्रांसपोर्टेशन की दरें बढी है और इससे ेजरूरत की वस्तुओं के भाव आसमान पर है। हालत यह है कि आसमान छू रही महंगाई के चलते गरीब और मध्यम वर्गीय परिवारों के घरों का बजट बुरी तरह से लडख़ड़ा गया है।
पिछले माह तीस मार्च को डीजल के भाव ९६.११ रूपए प्रति लीटर थे। महज बारह दिन में ही डीजल के भावों में प्रति लीटर साढे चार रूपए की बढोतरी हुई है। शनिवार को शहर में डीजल के भाव १००.६० रूपए प्रति लीटर रहे। जबकि तीस मार्च को पेट्रोल के भाव ११२.८४ रूपए प्रति लीटर थे। पिछले बारह दिन में पेट्रोल के भाव ४.८३ रूपए प्रति लीटर बढे हैं। शनिवार को शहर में पेट्रोल के भाव ११७.६७ रूपए रहे। ३१ मार्च को पेट्रोल ११३.७२ रूपए व डीजल ९६.९३ रूपए प्रति लीटर हो गया। एक अप्रेल को यह भाव स्थिर रहा, लेकिन दो अप्रेल को पेट्रोल ११४.४७ रूपए व डीजल ९७.७५ रूपए प्रति लीटर हो गया। तीन अप्रेल को भाव और बढ गए। इस दिन पेट्रोल ११४.४७ रूपए व डीजल के भाव ९८.५६ रूपए प्रति लीटर रहे। चार अप्रेल को पेट्रोल ११५.९१ रूपए व डीजल ९८.९७ रूपए प्रति लीटर बिका। पांच अप्रेल को पेट्रोल के भाव ११६.७९ रूपए प्रति लीटर व डीजल के भाव ९९.७९ रूपए प्रति लीटर तक पहुंच गए। छह अप्रेल को पेट्रोल ११७.६७ रूपए व डीजल १००.६१ रूपए प्रति लीटर हो गया। गनीमत है कि शनिवार तक यह भाव स्थित रहे हैं। पांच राज्यों में चुनाव के दौरान पेट्रोल-डीजल के भाव स्थिर कर दिए थे, तब आमजन ने सोचा कि अब भाव नहीं बढेंगे, लेकिन जैसे ही चुनाव पूरे हुए, पेट्रोल-डीजल महंगा होना शुरू हो गया। सरकार के इस खेल का असर देश और प्रदेश के करोड़ों गरीब और मध्यम आय वर्ग वाले परिवारों पर पड़ रहा है। खासतौर पर डीजल महंगा होने के चलते ट्रांसपोर्टेशन महंगा हुआ है, जिससे रोजमर्रा काम आने वाली जरूरत की वस्तुओं के भाव आसमान छूने लगे हैं। गरीब और मध्यम वर्गीय परिवारों के घरों का बजट लडख़ड़ा गया है। स्कूलों में नया सत्र शुरू होने के कारण पहले ही बच्चों की स्कूल फीस, यूनिफार्म और किताबें खरीदने में मोटी राशि खर्च हो रही है, वहीं ऐसे समय में लगातार महंगी हो रही रोजमर्रा की जीवन में काम आने वाले वस्तुएं खरीदना भी अब पहुंच से बाहर होती जा रही है।
डीजल की कीमतों ने लगाई आम जरूरत की वस्तुओं में आग, तीन दिन से लगा रहा शतक
डीजल की कीमतों ने लगाई आम जरूरत की वस्तुओं में आग, तीन दिन से लगा रहा शतक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

आय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध से पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दअरुणाचल प्रदेश पहुंचे अमित शाह, स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण कर बोले- मोदी सरकार ने दिल्ली व नॉर्थ-ईस्ट के अंतर को खत्म कियाबेटी की 'अवैध' नियुक्ति को लेकर CBI ने बंगाल के मंत्री परेश अधिकारी से तीसरे दिन भी की पूछताछRajiv Gandhi 31st Death Anniversary: अधीर रंजन ने ये क्या कह दिया, Tweet डिलीट कर देनी पड़ रही सफाई, FIR तक पहुंची बातपाकिस्तान पुलिस ने पूर्व पीएम इमरान खान के आवास पर की छापेमारीभीषण गर्मी : देश में 140 में से 60 बड़े बांधों का पानी घटा, राजस्थान के भी तीन बांधNCP प्रमुख शरद पवार आज पुणे में ब्राह्मण समुदाय के नेताओं से क्यों मिल रहे हैं?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.