समाज का प्रत्येक व्यक्ति बने कोरोना योद्धा

चित्तौडग़ढ़. कोरोना की लडाई जीतना इतना मुश्किल नहीं है यदि समाज का प्रत्येक वर्ग परिवार, समाज, शहर और जिले की भलाई की सोच रखकर अपना सकारात्मक योगदान दें। कोरोना वायरस से मुक्ति की जंग में भी समाज के प्रत्येक व्यक्ति से कोरोना योद्धा बनने की आवश्यकता है।

By: Avinash Chaturvedi

Published: 18 Sep 2020, 03:30 PM IST

समाज के विभिन्न समुदायों के साथ संवाद कार्यक्रम
चित्तौडग़ढ़. कोरोना की लडाई जीतना इतना मुश्किल नहीं है यदि समाज का प्रत्येक वर्ग परिवार, समाज, शहर और जिले की भलाई की सोच रखकर अपना सकारात्मक योगदान दें। कोरोना वायरस से मुक्ति की जंग में भी समाज के प्रत्येक व्यक्ति से कोरोना योद्धा बनने की आवश्यकता है।
यह बात गुरूवार को नगर परिषद् के इन्दिरा प्रियदर्शनी ऑडिटोरियम में जिला कलक्टर के.के. शर्मा ने सामाजिक, व्यापारी, एनजीओ, शिक्षक संगठनों सहित विभिन्न समुदायों के प्रतिनिधियों को संवाद कार्यक्रम में संबोधित करते हुए कही। कलक्टर ने कहा कि आज यह सोचने का विषय है कि हम विगत 6 माह से मास्क लगाने, सामाजिक दूरी और हाथ धोने जैसी सामान्य बातों को भी जीवन में क्यो नहीं उतार पा रहे हैं।् मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मंशा के अनुरूप नो मास्क नो इंट्री की धारणा को जन आंदोलन बनाना होगा। कोरोना से बचाव की छोटी-छोटी सावधानियां को लेकर हमारे व्यवहार में परिवर्तन ही हमें इस महामारी से निजात दिलाएगा। जिला प्रशासन के टोको और कोरोना को रोको अभियान को भी हमें गति देनी होगी। कलक्टर ने उद्बोधन के अंत में सदन में उपस्थिति सभी व्यक्तियों को कोराना जागरूकता शपथ दिलवाई।
जिला पुलिस अधीक्षक ने कहा कि कोरोना कैसे हमला करेगा यह हम तय नहीं कर सकते पर सावधानी रखकर उसे मात जरूर दे सकते हैं। उन्होंने प्रत्येक नगारिक से अपील की कि वो स्वयं अपने लिए एक घंटा प्रतिदिन निकाले जिसमें प्रणायामए योगा और शारीरिक दक्षता को मजबूत बनाने का काम करे। स्वयं के लिए निकाला गया यह समय परिवार और समाज के साथ देश को भी महामारी से सुरक्षित रखेगा।
इससे पूर्व चिकित्सा एंव स्वास्थ्य विभाग के प्रभारी अधिकारी डॉ. संजीव टांक ने कोरोना के विभिन्न पक्षो को लेकर विस्तार पूर्वक चिकित्सकीय और सामाजिक पक्ष रखा। टांक ने कोरोना संवाद कार्यक्रम में उपस्थित विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों से समाज के प्रत्येक व्यक्ति तक जागरूकता का बीड़ा उठाने का आह्वान किया। संचालन करते हुए अतिरिक्त जिला कलक्टर मुकेश कुमार कलाल ने कार्यक्रम की रूपरेखा बताते हुए कोरोना से बचाव को लेकर अपनी बात रखी। आभार अतिरिक्त जिला कलकटर अंबालाल मीणा ने व्यक्त किया। कार्यक्रम में एसडीएम श्याम सुन्दर विश्नोई, नगरपरिषद आयुक्त रिंकल गुप्ता, सीएमएचओ रामकेश गुर्जर, सहकारी समिति के उप रजिस्ट्रार पी आर आमेरिया उपस्थित थे। संवाद कार्यक्रम में 60 से अधिक सामाजिक संगठनों ने भागीदारी की।

Avinash Chaturvedi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned