नकली घी के अवैध कारोबार का भण्डाफोड़

चित्तौडग़ढ़. पुलिस की एक टीम ने निम्बाहेड़ा सदर थाना क्षेत्र के अरनोदा गांव में शुक्रवार शाम दबिश देकर सरस सहित विभिन्न ब्रॉण्ड का नकली घी पकड़कर दो आरोपियों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। डेयरी अध्यक्ष की सूचना पर पुलिस ने यह कार्रवाई की है।

By: Avinash Chaturvedi

Published: 24 Oct 2020, 11:01 PM IST

चित्तौडग़ढ़. पुलिस की एक टीम ने निम्बाहेड़ा सदर थाना क्षेत्र के अरनोदा गांव में शुक्रवार शाम दबिश देकर सरस सहित विभिन्न ब्रॉण्ड का नकली घी पकड़कर दो आरोपियों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। डेयरी अध्यक्ष की सूचना पर पुलिस ने यह कार्रवाई की है।
चित्तौडग़ढ़-प्रतापगढ़ दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ के अध्यक्ष बद्रीलाल जाट ने बताया कि उन्हें पिछले लंबे समय से सरस सहित विभिन्न ब्रॉण्ड के नकली घी का कारोबार होने की जानकारी मिली थी। इधर सरस डेयरी चित्तौडग़ढ़ का जहां प्रति दिन दो टन घी बिकता था, उसकी बिक्री घटकर प्रतिदिन एक टन ही रह गई थी। इस बारे में पता लगाने पर जानकारी मिली कि कुछ लोग अरनोदा में सरस सहित अलग-अलग ब्रॉण्ड से नकली घी बेच रहे हैं। इसके बाद डेयरी अध्यक्ष ने अरनोदा से घी का एक डिब्बा खरीदकर मंगवाया और उस घी की गुणवत्ता की जांच करवाई तो उसकी बीआर वैल्यू ५२ आई। इसका मतलब यह हुआ कि वह घी मिलावटी है। जबकि सरस डेयरी चित्तौडग़ढ़ के घी की बीआर ४१ से ४२ के बीच होती है, जो शुद्ध घी होता है। इससे अधिक बीआर आने पर वह घी मिलावटी होता है। इस जांच से यह पुष्टि हो गई कि सरस के नाम से कुछ लोग मिलावटी घी बेचने का अवैध कारोबार कर रहे हैं। जांच के लिए जो घी खरीदकर मंगवाया गया था, उसके ऊपर जयपुर का प्रिन्ट था और अन्दर कोटा का प्रिंट था। डेयरी अध्यक्ष ने बैच नंबर मिलान के लिए जयपुर डेयरी से संपर्क किया तो पता चला कि बैच नंबर फर्जी है। डेयरी अध्यक्ष ने कुछ लोगों को नकली घी का सौदा करने के लिए अरनोदा भेजा तो वहां से जवाब मिला कि शुक्रवार शाम को घी आ जाएगा। यह जानकारी मिलते ही डेयरी अध्यक्ष ने पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव से संपर्क किया और उन्हेंं सारी बात बताई। पुलिस अधीक्षक ने पुलिस उप अधीक्षक चित्तौडग़ढ़ अमित सिंह के नेतृत्व में एक टीम व को अरनोदा भेजा। डेयरी से गुणवत्ता नियंत्रण अधिकारी एमएस सिद्धिकी भी टीम के साथ गए। वहां इस टीम ने दबिश देकर एक जगह से अलग-अलग ब्रॉण्ड का दो कर्टन देशी घी जब्त कर कन्हैयालाल व गोविन्द नाम के युवकों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। मौके पर कार्रवाई देर रात तक जारी थी।
बड़े नेटवर्क के खुलासे की उम्मीद
नवरात्रि और दीपावली के मद्देनजर हर साल जिले में नकली घी का कारोबार करने वाले सक्रिय हो जाते हैं। अमूमन इस अवैध कारोबार से जुड़े लोग पकड़ में नहीं आते है। अब नकली घी के अवैध कारोबार का भण्डाफोड़ होने से बड़े नेटवर्क का खुलासा होने की उम्मीद है। हिरासत में लिए युवकों ने पुलिस को बता दिया है कि वह कहां से यह घी लाते हैं। पुलिस अब अन्य जगह शिकंजा कसने की तैयारी कर रही है।

Avinash Chaturvedi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned