किसान अब 31 अगस्त तक जमा करवा सकेंगे रबी फसली ऋण

कोरोना की दूसरी लहर के चलते किसानों को रबी सीजन 2020-21 में वितरित फसली ऋण को चुकाने में हो रही परेशानी को देखते हुए ऋण अदायगी की तिथि को 30 जून से बढ़ाकर 31 अगस्त 2021 कर दिया गया है। इस संबंध में विभाग ने आदेश जारी कर दिए हैं।

By: jitender saran

Published: 09 Jun 2021, 11:37 AM IST

चित्तौडग़ढ़
सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने बताया कि मुख्यमंत्री ने कोरोना महामारी के कारण किसानों को फसल सीजन रबी 2020-21 के अल्पकालीन फसली ऋणों के भुगतान की अंतिम तिथि को 31 अगस्त तक बढ़ाने के निर्देश दिए थे। इस निर्णय से 1 सितम्बर 2020 से 31 मार्च 2021 तक फसली ऋण लेने वाले लाखों किसानों को लाभ मिलेगा। खरीफ 2020 के अल्पकालीन फसली ऋणों की वसूली तिथि को 31 मार्च 2021 से 30 जून 2021 तक बढ़ाने के पूर्व में निर्देश भी दिए थे। इस संबंध में भी किसानों के हित में खरीफ 2020 के फसली ऋण चुकाने की तिथि को 31 माच 2021 से बढ़ाकर 30 जून 2021 या खरीफ फसली ऋण लेने की तिथि से एक वर्ष, जो भी पहले हो तक बढ़ा दी गई थी। ऋण चुकाने की तिथि में अधिकतम एक वर्ष की बाध्यता को समाप्त कर दिया है। राज्य में केन्द्रीय सहकारी बैंकों द्वारा ग्राम सेवा सहकारी समितियों के सदस्य काश्तकारों को अल्पकालीन फसली ऋण वितरित किए जाते हैं। खरीफ सीजन में लिए गए फसली ऋणों का चुकारा 31 मार्च तक तथा रबी सीजन में लिए गए ऋणों का चुकारा 30 जून तक करना होता है। किसानों के हित में किए गए इस निर्णय से लाखों किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर फसली ऋण की सुविधा मिलती रहेगी।

jitender saran Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned