सहायक पुलिस अधीक्षक व टीम पर हमले के पांच आरोपी गिरफ्तार

भीलवाड़ा के सहायक पुलिस अधीक्षक सहित पुलिस टीम पर जानलेवा हमला कर फरार हुए पांच आरोपियों को जिले की गंगरार थाना पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया।

By: jitender saran

Published: 04 Oct 2021, 08:57 PM IST

चित्तौडग़ढ़
भीलवाड़ा के सहायक पुलिस अधीक्षक सहित पुलिस टीम पर जानलेवा हमला कर फरार हुए पांच आरोपियों को जिले की गंगरार थाना पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया।
पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र प्रसाद गोयल ने बताया कि भीलवाड़ा के सहायक पुलिस अधीक्षक आईपीएस हरिशंकर ने २९ सितंबर २०२१ को गंगरार थाने में रिपोर्ट दी थी कि बजरी के अवैध खनन और परिवहन की रोकथाम के लिए वे पुलिस टीम सहित भीलवाड़ा से हमीरगढ़ के लिए रवाना होकर राष्ट्रीय राजमार्ग ४८ पर पहुंचे, जहां अवैध बजरी से भरे दो डंपर डिटेन करते हुए मौके पर पुलिस उप अधीक्षक भंवर रणधीर सिंह व जाप्ते को छोड़कर डंपर हमीरगढ़ थाने ले जाने के निर्देश दिए। इसके बाद वे बजरी का अवैध परिवहन कर रहे अन्य डंपर का पीछा करते हुए गंगरार थाना क्षेत्र में तिरंगा होटल पहुंचे, जहां अवैध रूप से बजरी से भरे कई डंपर खड़े थे। इन डंपर को चालक लेकर भागने लगे। डंपरों की एस्कॉर्टिंग कर रहे लोग कारें लेकर आए और कारों को सहायक पुलिस अधीक्षक की कार के आगे-पीछे लगा दी। इन कारों में देवदा निवासी गोविन्द गुर्जर व उसके दस-बारह साथी सवार थे। इन कार चालकों ने पुलिस जाप्ते पर कारें चढाने का प्रयास किया और राज कार्य में बाधा उत्पन्न कर बजरी के डंपर भगा ले गए।
मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक गोयल ने गंगरार थाना प्रभारी शिवलाल मीणा के नेतृत्व में टीम का गठन कर इसमें उप निरीक्षक लक्ष्मीलाल, सहायक उप निरीक्षक हंसराज, हेडकांस्टेबल गोपाललाल, धर्मेन्द्र कुमार, एजाजुद्दीन, रामजीतसिंह, ओमप्रकाश आदि को शामिल किया। टीम ने तिरंगा होटल पर सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद नामजद आरोपियों छिपने के संभावित ठिकानों पर तलाश की। प्रकरण में आरोपी राजू कीर, नारायणलाल, प्रभुलाल गुर्जर घटना के बाद माउण्ट आबू में तथा प्रकाश सुथार व राजू पुरी के उज्जैन में जाकर फरारी काटने की सूचना पर पुलिस ने आरोपियों का लगातार पीछा शुरू किया। इस दौरान पुलिस ने सुलीखेड़ा निवासी प्रकाश पुत्र छोगा सुथार, देवगिरी का खेड़ा निवासी राजू पुत्र भगवान पुरी गोस्वामी, कीरों की झोंपडिय़ां निवासी राजू पुत्र शांतिलाल कीर व नारायण पुत्र मोहन मीणा तथा गेणिया निवासी प्रभुलाल पुत्र गोपीचंद गुर्जर को भीलवाड़ा जिले के हमीरगढ़ थाना क्षेत्र से सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी राजू पुरी व नारायण मीणा से घटना में प्रयुक्त दो कार बरामद की गई है। यह सभी आरोपी भीलवाड़ा से बनास नदी से बजरी भरकर जाने वाले वाहनों की एस्कॉर्टिंग करते हैं। इस मामले में अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।

jitender saran Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned