बिना बताए होटल में ठहरे विदेशी, सात लोगों पर घरों में ही नजर

कोरोना वायरस का संदिग्ध रोगी आना मान चित्तौडग़ढ़ जिला चिकित्सालय बुधवार को तो एक बार हड़कम्प मच गया पर बाद में सामान्य बीमारी के लक्षण की पुष्टि होने पर राहत की सांस ली। इधर, एहतियात के तौर सउदी अरब से हाल ही आए तीन लोगों को सावा में एवं थाइलैण्ड की यात्रा करके आए चार लोगों को बेगूं में होम आइसोलेशन में रखा गया है। चित्तौैड़ दुर्ग पर एक होटल में पिछले कुछ दिनों से प्रशासन व चिकित्सा विभाग को बिना सूचना दिए ईटली के चार पर्यटक ठहरने की जानकारी सामने आई तो खलबली मच गई।

By: Nilesh Kumar Kathed

Published: 19 Mar 2020, 11:03 PM IST

चित्तौडग़ढ़. कोरोना वायरस का संदिग्ध रोगी आना मान चित्तौडग़ढ़ जिला चिकित्सालय बुधवार को तो एक बार हड़कम्प मच गया पर बाद में सामान्य बीमारी के लक्षण की पुष्टि होने पर राहत की सांस ली। इधर, एहतियात के तौर सउदी अरब से हाल ही आए तीन लोगों को सावा में एवं थाइलैण्ड की यात्रा करके आए चार लोगों को बेगूं में होम आइसोलेशन में रखा गया है। चित्तौैड़ दुर्ग पर एक होटल में पिछले कुछ दिनों से प्रशासन व चिकित्सा विभाग को बिना सूचना दिए ईटली के चार पर्यटक ठहरने की जानकारी सामने आई तो खलबली मच गई। सूचना पर पुलिस होटल में पहुंची तो पता चला कि सुबह होटल संचालक ने ही पर्यटकों को रवाना कर दिया। इसके बाद चिकित्सा विभाग ने दुर्ग पर दो अलग-अलग टीमें भी स्क्रीनिंग के लिए भेजी। प्रशासन ने बिना सूचना दिए विदेशी पर्यटकों को ठहराने पर दुर्ग के पद्मनी हवेली गेस्ट हाउस के संचालक को नोटिस देकर कार्रवाई करने के संकेत दिए है।
शंभूपुरा थाना क्षेत्र के सावा स्वास्थ्य केन्द्र पर गुरुवार को एक महिला उपचार के लिए आई तो चिकित्सकों को लगा कि उसमें कोरोना वायरस के लक्षण हो सकते है इसलिए जिला चिकित्सालय में आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराना चाहिए। इसकी भनक लगते ही महिला स्वास्थ्य केन्द्र से भाग गई। पता चला कि उस सहित तीन लोग दो दिन पूर्व ही साऊदी अरब से सावा आये थे। इसके बाद कार्यवाहक सीएमएचओ डॉ. हरीश उपाध्याय एवं उपखण्ड अधिकारी तेजस्वी राणा ने पुलिस के सहयोग से महिला की तलाश कर आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराने के निर्देश दिए। दोपहर करीब पौन बजे महिला को सामान्य चिकित्सालय लोकर संक्रीनिंग की गई। इसमें सामान्य बीमारी के लक्षण मिलने पर भी चिकित्सकों ने उसे १४ दिन होम आइसोलेशन में रखा है। उसके साथ आए दो अन्य लोगों को भी सावा में होम आइसोलेशन में रखा गया।
बिना सूचना ठहराया विदेशी पर्यटकों को
नेचित्तौडग़ढ़ दुर्ग पर एक गेस्ट हाउस संचालक ने पिछले चार दिनों से बिना प्रशासन को सूचित किए चार ईटली के पर्यटकों की ठहरा रखा था। इस संबंध में गुरूवार सुबह दुर्ग के लोगों द्वारा जिला कलक्टर को सूचना देने पर चिकित्सा विभाग की दो रेपिड एक्शन टीम भेजी गई लेकिन जब तक विदेशी पर्यटक वहां से रवाना हो चुके थे। इनमें से एक टीम ने सांवलियाजी धर्मशाला से पाडन पोल तक तथा दूसरी टीम ने पाडन पोल से पूरे दुर्ग पर बनी होटलों में इस बात की जानकारी ली कि कोई विदेशी पर्यटक तो वहां नहीं ठहरा हुआ है।यह भी जानकारी मिली है कि बुधवार रात को दुर्ग चौकी पुलिस भी वहां गई थी इसके बाद होटल संचालक ने गुरूवार सुबह ही चारों पर्यटकों को वहां से रवाना कर दिया।

अनावश्यक घर से बाहर नहीं निकलने की अपील
जिला कलक्टर ने लोगों से अपील की है कि अनावश्यक घर से बाहर न निकलें।आवश्यक होने पर घर से बाहर जाने पर अपने हाथों को कम से कम जगहों को टच करें। संभव हो तो सेनिटाइजर का प्रयोग करें। घर मे प्रवेश करने पर 20 सेकेण्ड साबुन से अपने हाथो को धो लें। साथ ही सभी नागरिक सुनिशित करें कि अपने घर या आस पड़ोस में यदि विदेश से कोई आता है तो जिला कंट्रोल 01472.245813 या 9001990600 पर सूचित अवश्य करें जिससे चिकित्सा विभाग द्वारा उसकी जांच की जा सकें। स्वयं सुरक्षित रहें और अपने पड़ोसियों को सुरक्षित रखें। विदेश से आये व्यक्ति की सूचना न देने पर और बीमार होकर होस्पिटल में पहुंचने पर उनके खिलाफ नियमानुसार विधिक कार्यवाही की जाएगी।

विदेश से आने वाले चार लोग होम आइसोलेट
गत दिनों थाईलैण्ड की यात्रा कर चार युवक बेगंू आए थे। एक युवक काटुन्दा निवासी एवं तीन युवक बेगंू निवासी है। ब्लॉक मुय चिकित्साधिकारी ललित धाकड ने बताया कि चारों युवकों से पाबंदी पत्र भरवाया गया। इन्हें मास्क एवं अन्य सुरक्षा उपकरण देकर अपने घर में हीं एकान्त में रहने के निर्देश दिए गए है।

नहीं दे अफवाहों पर ध्यान
आमजन से प्रशासन ने अपील की है कि वे अफवाहों पर ध्यान ना दें व अधिकारिक सूचना प्राप्त ना होने तक ऐसे वीडियो और मैसेज शेयर ना करें। सोशल मीडिया की अफवाहों पर ध्यान ना दें अन्यथा विधिक कार्रवाई की जाएगी। यदि यदि कोई भी विदेश यात्रा करके आपके घर आया है और पूर्व में प्रशासन को सूचना नहीं दी गई है तो 15 दिन उसे घर पर ही आइसोलेट करें और स्वयं भी घर से बाहर ना निकलें व लोगों के संपर्क में आने से बचें। सर्दी जुकाम का कोई भी लक्षण होने पर तुरंत चिकित्सा विभाग से संपर्क करने के निर्देश भी जारी किए गए हैं।
होटल संचालक पर होगी कार्रवाई
कोरोना वायरस मामले की संवेदनशीलता को ध्यान में रख सभी होटल संचालकों को पहले से पाबंद किया है कि बिना सूचना वे किसी भी विदेशी को नहीं ठहराए। इसके बावजूद किसी ने ऐसा किया है तो होटल संचालक को नोटिस देकर जवाब मांगा जाएगा और जरूरी कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
मुकेश कलाल, अतिरिक्त जिला कलकटर चित्तौडग़ढ़

Nilesh Kumar Kathed
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned