scriptHiccups are being recovered | हिचकोलों की हो रही है वसूली | Patrika News

हिचकोलों की हो रही है वसूली

चित्तौडग़ढ़. आप अगर कपासन होकर उदयपुर की ओर अपने वाहन से जा रहे है तो वाहन चलाते समय पूरी सावधानी बरतें। कब कौन सा गढ्डा दुर्घटनाग्रस्त हो जाए कहा नहीं जा सकता। हालाकि सरकार इस मार्ग पर टोल वसूली कर रही है फिर भी आमजन के लिए इस मार्ग पर संकट भरा साबित हो रहा है। ऐसे में आमजन को हिचकोलों का टोल देना पड़ रहा है।

चित्तौड़गढ़

Published: December 01, 2021 10:21:52 pm

चित्तौडग़ढ़. आप अगर कपासन होकर उदयपुर की ओर अपने वाहन से जा रहे है तो वाहन चलाते समय पूरी सावधानी बरतें। कब कौन सा गढ्डा दुर्घटनाग्रस्त हो जाए कहा नहीं जा सकता। हालाकि सरकार इस मार्ग पर टोल वसूली कर रही है फिर भी आमजन के लिए इस मार्ग पर संकट भरा साबित हो रहा है। ऐसे में आमजन को हिचकोलों का टोल देना पड़ रहा है।
चित्तौडग़ढ़ से सदयपुर वाया कपासन मावली होते हुए डबोक तक स्अेट हाइवे बना हुआ है। इस सड़क पर चित्तौडग़ढ़ जिले के सिंहपुर एवं उदयपुर जिले के डबोक से पहले टोल वूली के लिए टोल बूथ बने हुए है। करीब १०० किलोमीटर की तक के इस हाइवे पर हर एक किलोमीटर में कम से कम सौ से अधिक गहरे गड्ढे हो रहे है। ऐसे में यहां पर वाहन चलाने वालों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। ऐसे में कई बार वाहन अनियंत्रित हो कर दुर्घटना ग्रस्त हो जाते है।
हिचकोलों की हो रही है वसूली
हिचकोलों की हो रही है वसूली
कई सालों से नहीं हुई मरम्मत
इस स्टेट हाइवे पर पिछले एक दशक से अधिक समय से इस मार्ग पर टोल की वसूली तो हो रही है लेकिन इस सड़क पर रखरखाव के नाम पर कुछ भी खर्च नहीं हो रहा है। यदाकदा गढडों को भरने के लिए गिट्टी एवं मिट्टी डालकर उस पर पेचवर्क कर रहे जो कुछ दिन सही रहता है फिर वहीं हाल हो जाते है।
टोल से निकलते ही जानलेवा गड्ढे
सिंहपुर टोल पार करने के ठीक बाद में ही एक-एक फीट के गढ्डे सड़क में हो रहे है। इसके बाद भी टोल संचालक एवं अधिकारी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे है।
पहले भी हो चुके है हादसे
इस मार्ग के क्षेतिग्रस्त होने पर पूर्व में भी कई हादसे हो चुके है इसके बाद क्षेत्र के लोगों ने इस मार्ग को दुरस्त कराने की मांग की लेकिन इस ओर किसी ने ध्यान नहीं दिया।
कई बार लिख चुके है
हम सरकार को इस बारे में कई बार लिख चुके है। इसके लिए चार साल पहले इसे ठीक कराने की स्वीकृति भी हुई लेकिन बजट के अभाव में काम शुरू नहीं हो पाया है। अब जाकर वर्क ऑर्डर निकले है। उम्मीद है जल्छ ही यह र्मा ठीक हो जाएगा।
अर्जुन लाल जीनगर, विधायक कपासन चित्तौडग़ढ़

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.