फेस्टिवल सीजन में बेहतर ग्राहकी की उम्मीद

चित्तौडग़ढ़. पिछले डेढ़ साल से अधिक समय से कोरोना का दंश झेल रहे शहर के व्यापारी व दुकानदार गणेश चतुर्थी से शुरू हुई फेस्टिवल सीजन को लेकर व्यापार को बढ़ावा देने के लिए कमर कस चुके हैं ताकि पिछले नुकसान की भरपाई हो सके।

By: Avinash Chaturvedi

Updated: 13 Sep 2021, 10:10 PM IST

चित्तौडग़ढ़. पिछले डेढ़ साल से अधिक समय से कोरोना का दंश झेल रहे शहर के व्यापारी व दुकानदार गणेश चतुर्थी से शुरू हुई फेस्टिवल सीजन को लेकर व्यापार को बढ़ावा देने के लिए कमर कस चुके हैं ताकि पिछले नुकसान की भरपाई हो सके।
अभी कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच भयभीत व्यापारी वर्ग ग्राहकों को लुभाने के लिए कई ऑफर भी दे रहे हैं। एक ओर कोरोना का दंश है तो दूसरी ओर इस अवधि में ऑनलाइन व्यापार को बढ़ावा मिलने से स्थानीय व्यापारी अपने व्यापार को बढ़ावा देने के लिए नाना जतन कर रहे हैं। व्यापारी संगठनों का कहना है कोरोना काल और ऑनलाइन कम्पनियों की मनमानी ने हमें बहुत कुछ सिखाया है। इसी बीच गणेश चतुर्थी से शुरू हुए फेस्टिवल सीजन से व्यापारियों को अच्छी ग्रोथ की उम्मीद बंधी है।
इन दिनों ऑनलाइन व्यापार का भी सिलसिला बढ़ा है, लेूकिन बहुत बड़ा शहरी व ग्रामीण वर्ग आज भी ऑफलाइन खरीदारी पर विश्वास करता है। इससे व्यापारियों में गणेश चतुर्थी से लेकर दीपावली तक अच्छी ग्रोथ होने व ग्राहकी को लेकर आस बंधी है। हालाकि व्यापारी वर्ग में कोरोना की तीसरी लहर आने पर बाजार में प्रतिकूल असर पडऩे की भी आशंका है। फिर भी फेस्टिवल सीजन को देखते हुए बाजारों में स्टॉक बढ़ाने के साथ ही ग्राहकों को लुभाने के लिए तैयारियां की है।
इनका कहना है
गत डेढ़ साल में कोरोना की वजह से व्यापार जगत में काफी फर्क पड़ा है। काफी समय दुकानें बंद रही थी। अभी कोरोना की तीसरी लहर की आशंका है, लेकिन पर्व, त्योहारों को लेकर आने वाले समय में अच्छी ग्राहकी भी आस है।
चतरुलाल न्याती, किराना व्यापारी
कोरोना की तीसरी लहर नियंत्रण में रही तो खुदरा बाजार में फेस्टिवल सीजन में अच्छी ग्राहकी होने की आस है।
पारसमल, किराणा व जनरल स्टोर व्यापारी

Avinash Chaturvedi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned