चित्तौडग़ढ़. चार दिवसीय चित्तौडग़ढ़ जिले के दौरे के दूसरे दिन मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने निम्बाहेड़ा विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओ से जनसंवाद किया। निम्बाहेड़ा के जेके इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में सुबह तय समय से करीब डेढ़ घंटे बाद शुरू जनसंवाद में मुख्यमंत्री के सामने कार्यकर्ताओ ने क्षेत्र में शिक्षा एवं चिकित्सा सुविधाओं की कमी दूर करने पर जोर दिया। राजे ने खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहन देने के लिए चित्तौडग़ढ़ जिले के निम्बाहेड़ा में फुटबॉल अकादमी शुरू करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि अच्छे प्रशिक्षक नियुक्त कर यहां फुटबॉल खेल की प्रतिभाओं को निखारा जाएगा। जनसंवाद के दौरान स्थानीय खिलाडिय़ों ने मुख्यमंत्री के समक्ष फुटबॉल और अन्य खेलों के लिए और अधिक सुविधाएं मुहैया करवाने की मांग रखी थी। छह घंटे से अधिक समय तक चले जनसंवाद से मीडिया को दूर ही रखा गया। भाजपा के भी उन्हीं कार्यकर्ताओं को प्रवेश मिला जिनका पूर्व में पंजीयन हुआ था। ऐसे में कई कार्यकर्ता भी मुख्यमंत्री से नहीं मिल पाए। जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से रूबरू हुई। तब मुख्यमंत्री के हाथों लैपटॉप लेने वाली मेधावी छात्रा उर्वशी लौहार ने कहा कि वह सरकार की योजनाओं के तहत तीन बार लैपटॉप ले चुकी है और अब वह स्कूटी लेंगी। जनसंवाद कार्यक्रम से पूर्व जब दिव्यांग लाभार्थियों को ट्राईसाइकिल और अन्य उपकरण बांट रही थीं तो सरलाई से आयी बालिका शिवकन्या के आंसू छलक उठे। निम्बाहेड़ा की 10 मेधावी छात्राओं को लैपटॉप वितरित किए। उन्होंने नौ विभिन्न दिव्यांगजनों को मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल, स्मार्टकेन, श्रवण यंत्र तथा एमएसआईटी किट भी वितरित किए।इस अवसर पर सांसद सीपी जोशी, नगरीय विकास मंत्री श्रीचंद कृपलानी सहित अन्य जनप्रतिनिधि व वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री के जनसंवाद के दौरान उनसे मिलने के लिए बड़ी संख्या में कार्यकर्ता व अन्य वर्गों के लोग कार्यक्रम स्थल के बाहर भी जमा रहे। हेलिपेड से कार्यक्रम स्थल पहुंचने के दौरान भी मुख्यमंत्री राह में कुछ जगह रूक लोगों से मिली।




राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned