NCTE ITEP Notification 2020- 64 तहसीलों में ही मिली 4 वर्षीय BA- B.Ed कोर्स संचालन की अनुमति

NCTE ITEP Notification 2020- 64 तहसीलों में ही मिली 4 वर्षीय BA- B.Ed कोर्स संचालन की अनुमति

Santosh Kumar Trivedi | Updated: 28 May 2019, 01:12:33 PM (IST) Chittorgarh, Chittorgarh, Rajasthan, India

NCTE ITEP Notification 2020 - राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) ने नए शैक्षिक सत्र 2020-21 में चार वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम (आइटीईपी) की मान्यता/अनुमति की स्वीकृति के लिए 3 जून से 31 जुलाई तक ऑनलाइन आवेदन मांगे हैं।

चित्तौडग़ढ़। NCTE ITEP Notification 2020- राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (NCTE) ने नए शैक्षिक सत्र 2020-21 में चार वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम (आइटीईपी) की मान्यता/अनुमति की स्वीकृति के लिए 3 जून से 31 जुलाई तक ऑनलाइन आवेदन मांगे हैं।

 

एनसीटीई ( National Council for Teacher Education ) ने उच्चतम न्यायालय के 15 मई को दिए गए आदेश की अनुपालना में राज्य के 21 जिलों की 64 तहसीलों सहित चयनित राज्यों के मौजूदा केन्द्रीय/राज्य विश्वविद्यालयों तथा डिग्री कॉलेजों सहित स्थापित निजी विश्वविद्यालयों से चार वर्षीय आईटीईपी के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगने का निर्णय किया है।

 

एनसीटीई ने स्पष्ट किया है कि इस कार्यक्रम के लिए केवल वे ही संस्थान पात्र होंगे जिन्हें आवेदन करने की तिथि को परिषद के तय नियमों के तहत परिभाषित किया गया है। इस पाठ्यक्रम के आवेदन करने के लिए केवल विश्वविद्यालय तथा डिग्री कॉलेज ही पात्र होंगे।

 

उच्चतम न्यायालय ने चार वर्षीय BA- B.Ed कोर्स के आवेदन आमंत्रित करने के आदेश जिनकी याचिका पर दिए, उनमें जिले के गंगरार क्षेत्र में संचालित मेवाड़ विश्वविद्यालय भी शामिल है। इसके बावजूद विश्वविद्यालय के क्षेत्र गंगरार तहसील चयनित 64 तहसीलों में नहीं है। इससे उसे फायदा नहीं होगा।

 

NEET(UG) 2019 के ऑनलाइन आवेदन पत्र के चयनित क्षेत्रों में सुधार की सुविधा दी गई है। उम्मीदवार एनटीए के नीट यूजी की वेबसाइट पर जाकर इसका लाभ ले सकते हैं। यह सुविधा 31 मई तक शाम 5 बजे तक उपलब्ध है।

जेईई एडवांस्ड परीक्षा: देश की सबसे प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई एडवांस्ड परीक्षा सोमवार को देश के 155 शहर, छह विदेशों में हुई। राजस्थान के सात शहरों में परीक्षा दो चरणों में सुबह 9 से 12 व दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक हुई। विद्यार्थियों से मिले फीडबैक के अनुसार जेईई एडवांस्ड 2019 का पेपर पिछले वर्षों की तुलना में कठिन था। फिजिक्स व मैथेमेटिक्स ने विद्यार्थियों को परेशान किया। जबकि कैमेस्ट्री का पेपर ओवरऑल आसान रहा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned