बंद मंदिरों में ही किए पूजा अभिषेक,पूरी नहीं बारिश की आस

सावन सोमवार संग हरियाली अमावस्या का करीब बीस वर्ष बाद फिर संयोग मिला। इस शुभ मौके पर भी मानसून मेहरबान नहीं हुआ। सावन के दूसरेे सोमवार के बाद तीसरा सोमवार भी सूखा ही बीत गया। बादल छाए रहने से आस जरूरी बंधी कि बारिश होगी लेकिन सावन सोमवार को इन्द्रदेव नहीं पसीजे। जिले में कहीं भी बारिश दर्ज नहीं हुई। सावन के तीसरे सोमवार को भी पुजारियों ने शिवलिंग व प्रतिमाओं पर अभिषेक व सजावट की लेकिन मंदिरों में हर-हर महादेव के जयकारे नहीं सुनाई दिए।

By: Nilesh Kumar Kathed

Published: 20 Jul 2020, 11:16 PM IST

चित्तौडग़ढ़. सावन सोमवार संग हरियाली अमावस्या का करीब बीस वर्ष बाद फिर संयोग मिला। इस शुभ मौके पर भी मानसून मेहरबान नहीं हुआ। सावन के दूसरेे सोमवार के बाद तीसरा सोमवार भी सूखा ही बीत गया। बादल छाए रहने से आस जरूरी बंधी कि बारिश होगी लेकिन सावन सोमवार को इन्द्रदेव नहीं पसीजे। सोमवार सुबह ८ बजे समाप्त २४ घंटे एवं सुबह ८ से शाम ५ बजे तक की अवधि में जिले में कहीं भी बारिश दर्ज नहीं हुई। सावन के तीसरे सोमवार को भी पुजारियों ने शिवलिंग व प्रतिमाओं पर अभिषेक व सजावट की लेकिन मंदिरों में हर-हर महादेव के जयकारे नहीं सुनाई दिए। चित्तौडग़ढ़ में हरियाली अमावस्या व सावन सोमवार का संगम होने से प्रमुख शिव मंदिरों में भीड़ नहीं लगे इसके लिए पुलिस ने उन्हें बंद कराने के साथ वहां पुलिसकर्मी भी तैनात कर दिए। चित्तौडग़ढ़ में हजारेश्वर महादेव मंदिर, खरडिय़ा महादेव आदि स्थानों पर फूलों से शिवलिंग का श्रंृगार किया गया। चित्तौड़ दुर्ग स्थित नीलकंठ महादेव मंदिर में श्रृंगारित शिवलिंग की पूजा महन्त जगन्नाथ भारती ने की।। शहर के प्रमुख हजारेश्वर महादेव मंदिर में सावन सोमवार को भक्तों की लंबी कतार होती है। यहां सुबह से द्वार बंद रहे। स्वयं महंत चन्द्रभारती भी आने वाले भक्तों से यहीं आग्रह करते रहे है कि वर्तमान में हालात में स्वयं की सेहत सुरक्षा दृष्टि से घर पर ही रहकर ही महादेव की भक्ति व सावन की आराधना करें। शहर के अन्य शिव मंदिरों में भी ऐसी ही स्थिति दिखी। गौरतलब है कि वर्षो बाद इस बार ऐसा संयोग बना है जब सावन माह की शुरूआत व समापन सोमवार को हो रहा है।

Nilesh Kumar Kathed
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned