मवेशियों में फैल रही है पेट में कीड़े की बीमारी

चित्तौडग़ढ़ जिले में मवेशियों में पेट में कीड़े, कमजोरी और चींचड़े की समस्या बढ रही है। कृषि विज्ञान केन्द्र की ओर से गोद लिए पंचदेवला गांव में आयोजित पशु चिकित्सा शिविर में इस बात का खुलासा हुआ है।

By: jitender saran

Published: 09 Jun 2021, 12:35 PM IST

चित्तौडग़ढ़
केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. रतनलाल सोलंकी ने बताया कि कृषि विज्ञान केन्द्र व पशुपालन विभाग चित्तौडग़ढ़ के संयुक्त तत्वाधान में किसानो की आय दोगुनी करने वाले गोदित गांव पंचदेवला में आयोजित पशु चिकित्सा शिविर में उपस्थित 83 पशुपालक कृषकों की सहभागिता रही। जिसमें 489 पशुओं के लिए दवाइयां वितरित की गई। पशुपालकों को कोविड-19 में सावधानी रखते हुए केन्द्र की गतिविधियां एवं बरसात के मौसम में पशुओं के रखरखाव एवं टीकाकरण सम्बन्धी जानकारी दी गई। पशुपालन विभाग से डॉ. ज्योति मीणा ने किसानो को पशुओं में बारिश के मौसम से पूर्व बाह्य परजीवी एवं अन्त: परजीवी के टीकाकरण एवं उनके प्रबंधन के बारे में बताया। पशुपालकों को उनके पशुओं के प्रबंधन एवं उनके द्वारा बताई गई पशु में समस्या के आधार पर मौके पर ही नि:शुल्क दवाइयां वितरित की गई। मौके पर ही भैंस एवं बकरियों को कृमिनाशक दवा पिलाई गई। साथ ही विश्व पर्यावरण दिवस पर कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिको ने पंचदेवला सर्किल पर पांच फलदार पौधे ग्रामवासियों के सहयोग से रोपित किए। अन्त में उद्यान वैज्ञानिक डॉ. राजेश जलवानिया ने शिविर में उपस्थित पशुपालकों का धन्यवाद ज्ञापित किया।

jitender saran Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned