घोसुण्डा इनटेक की मुख्य पाइप लाइन फूटी, लाखों लीटर पानी व्यर्थ बहा

चित्तौडग़ढ़. शहर के उपभोक्ताओ को जलापूर्ति करने के लिए घोसुण्डा बांध से आने वाली मुख्य पाइप लाइन क्षतिग्रस्त हो गई। जिससे सोमवार को शहर के कई क्षेत्रों में जलापूर्ति नहीं हो सकी और मंगलवार को भी शहर के कई क्षेत्रों में जलापूर्ति नहीं हो सकेगी। पाइप लाइन फूटने से करीब दो लाख लीटर से अधिक पानी व्यर्थ बह गया।

By: Avinash Chaturvedi

Published: 30 Jun 2020, 02:26 PM IST

चित्तौडग़ढ़. शहर के उपभोक्ताओ को जलापूर्ति करने के लिए घोसुण्डा बांध से आने वाली मुख्य पाइप लाइन क्षतिग्रस्त हो गई। जिससे सोमवार को शहर के कई क्षेत्रों में जलापूर्ति नहीं हो सकी और मंगलवार को भी शहर के कई क्षेत्रों में जलापूर्ति नहीं हो सकेगी। पाइप लाइन फूटने से करीब दो लाख लीटर से अधिक पानी व्यर्थ बह गया। इसके बाद सोमवार को जलदाय विभाग ने इसके सुधार का कार्य शुरू कर दिया लेकिन शाम सात बजे आसपास के ग्रामीणों ने वहां पहुंच कर जलदाय विभाग के कर्मचारियों को काम करने से रोक दिया तथा उनका विरोध करने लगे। बाद में मौके पर पुलिस का बुलानी पड़ी।
जलदाय विभाग की घोसुण्डा इनटेक से आने वाली 450 एमएम डीआई राइजिंग मेन पाइप लाइन रविवार रात को देवरी पेट्रोल पंप के पास खेत में बाड़ बन्दी के लिए की गई खुदाई के दौरान फूट गई। जिससे तेजी से पानी बहना शुरू हो गया। और आसपास के खेतों में पानी भर गया। रातभर में करीब दो लाख लीटर पानी व्यर्थ बहने का अनुमान लगाया जा रहा है। इसके बाद सोमवार को शाम को शाम को सेंती टंकी, मधुवन टंकी एवं मीरा वाचनालय की पेयजल आपूर्ति प्रभावित रही । हालाकि सूचना मिलते ही सोमवार सुबह ही जलदाय विभाग के सहायक अभियंता सी.वी सिंह सहित अन्य अधिकारी टीम के साथ पहुंचे। पाइप लाइन को ठीक करने का कार्य शुरू कर दिया लेकिन शाम सात बजे के करीब आसपास की महिलाएं एवं पुरूष वहां पर विरोध करने पहुंच गए और महिलाओं ने हाथों में पत्थर उठालिए कर्मचारियों को खेत में पाइप लाइन सुधारने के लिए काम करने से इंकार कर दिया। इसके बाद मौके पर पुलिस को बुलाना पड़ा। ग्रामीणों एवं विभाग के बीच रात तक विवाद चलता रहा।
सहायक अभियंता सीवी सिंह ने बताया कि पाइप लाइन का कार्य होने से मंगलवार को प्रात: मधुवन टंकी, सेगवा हाउसिंग बोर्ड की दोनों टंकियों की पेयजलापूर्ति पूरी तरह से प्रभावित रही। इसके अलरावा सेंती टंकी, कैलाश नगर टंकी, कीरखेड़ा टंकी, गांधी नगर. हुडको कॉलोनी टंकी, विद्या निकेतन टंकी, बूंदी रोड टंकी जलापूर्ति आंशिक रूप से प्रभावित रही।

Avinash Chaturvedi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned