डाकियों को भी नहीं मिल रहे पार्षद, कैसे थमाए उनको नोटिस

जिले में कपासन नगर पालिकाअध्यक्ष दिलीप व्यास के विरुद्ध पेश किए गए अविश्वास प्रस्ताव के विचार के लिए १0 दिसंबर को आहूत की गई बैठक की सूचना के रजिस्टर्ड नोटिसकी डिलीवरी कराना डाककर्मियों के लिए कठिन हो गया है। अविश्वास प्रस्ताव पेश करने के समर्थक एवं विरोध करने वाले अधिकांश पार्षदों के बाड़ेबंदी में अज्ञात स्थान पर भूमिगत होने से इस सूचना पत्र की व्यक्तिगत डिलीवरी नहीं हो पा रही है।

चित्तौडग़ढ़
जिले में कपासन नगर पालिकाअध्यक्ष दिलीप व्यास के विरुद्ध पेश किए गए अविश्वास प्रस्ताव के विचार के लिए १0 दिसंबर को आहूत की गई बैठक की सूचना के रजिस्टर्ड नोटिसकी डिलीवरी कराना डाककर्मियों के लिए कठिन हो गया है। अविश्वास प्रस्ताव पेश करने के समर्थक एवं विरोध करने वाले अधिकांश पार्षदों के बाड़ेबंदी में अज्ञात स्थान पर भूमिगत होने से इस सूचना पत्र की व्यक्तिगत डिलीवरी नहीं हो पा रही है। अविश्वास प्रस्ताव पेश करने वाले भाजपा के बागी एवं कांग्रेस और निर्दलीय कई पार्षद तथा अविश्वास प्रस्ताव का विरोध करने वाले कांग्रेस के एक पार्षद भी भूमिगत है। डाक कर्मी इन नोटिस की व्यक्तिगत डिलीवरी के लिए उनके आवास एवं प्रतिष्ठानों आदि पर जाकर परिजन सहित आसपड़ोस के लोगों से पूछताछ कर चक्कर लगा उनकी तलाश कर रहे हैं।
परिजनों से बार-बार संपर्क कर नोटिस की डिलीवरी का प्रयास भी कर रहे है। गौरतलब है कि जिला कलक्टर चेतन देवड़ा ने नगर पालिका कपासन के अध्यक्ष दिलीप व्यास के विरुद्ध 15 पार्षदों की ओर से प्रस्तुत प्रस्ताव पर विचार के लिए 10 दिसंबर सुुबह 11 बजे पालिका कपासन के सभागार में बैठक आहूत की है।
बैठक में विधायक कपासन अर्जुन लाल जीनगर एवं अध्यक्ष व्यास सहित सभी 19 पार्षदों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए सूचना पत्र नोटिस पार्षदों के स्थाई पते पर रजिस्टर्ड डाक से भेजे गए है।

jitender saran Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned