scriptThe principle of one person one post blew the sleep of the claimants | एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत ने उड़ाई दावेदारों की नींद | Patrika News

एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत ने उड़ाई दावेदारों की नींद

कांग्रेस जिलाध्यक्ष के ताज ने जिले में दावेदारों की धड़कनें तेज कर दी है, वहीं एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत ने कई दावेदारों की नींद उड़ा दी है।

चित्तौड़गढ़

Published: August 01, 2022 10:33:47 pm

चित्तौडग़ढ़
कांग्रेस जिलाध्यक्ष के ताज ने जिले में दावेदारों की धड़कनें तेज कर दी है, वहीं एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत ने कई दावेदारों की नींद उड़ा दी है।
कांग्रेस जिलाध्यक्ष के पद पर किसकी ताजपोशी होनी है, इस पर दिल्ली में अब निर्णायक दौर चल रहा है। दावेदार पार्टी स्तर पर ही एक दूसरे को शह और मात देने का खेल खेलने में व्यस्त है। दूसरी तरफ पार्टी में एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत ने कई दावेदारों की नींद उड़ा दी है। दावेदारों की सूची में शामिल कई नेता ऐसे हैं, जो वर्तमान में किसी न किसी पद पर है, ऐसे में एक व्यक्ति एक पद का सिद्धांत लागू होता है तो इनके लिए परेशानी खड़ी हो सकती है। दूसरी तरफ पार्टी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्रमोद सिसोदिया को राजस्थान धरोहर संरक्षण एवं प्रोन्नति प्राधिकरण बोर्ड के अध्यक्ष सुरेन्द्रसिंह जाड़ावत का समर्थन प्राप्त है। जिले में जाड़ावत पार्टी के पहले ऐसे नेता है, जिन्होंने खुले रूप से सिसोदिया की पैरवी की है। जबकि कुछ नेता दावेदारों की कोहनी पर गुड़ लगाने का काम कर रहे हैं। यानी किसी भी दावेदार की खुले तौर पर पैरवी करने से बच रहे हैं। ऐसे में कई दावेदार तो पशोपेश में है कि पार्टी का कौन-कौनसा वरिष्ठ नेता किसकी पैरवी कर रहा है। इधर बेगूं विधायक राजेन्द्रसिंह बिधूड़ी ने भी अपने पत्ते नहीं खोले हैं, लेकिन राजनीतिक सूत्रों की मानें तो महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष नीतू कंवर भाटी का नाम उनकी सूची में पहले नंबर पर है। संगठन में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने संबंधी प्रियंका गांधी का फार्मूला यदि राजस्थान में भी लागू होता है तो चित्तौडग़ढ़ में कांग्रेस जिलाध्यक्ष का ताज किसी महिला के खाते में जाने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता। जिलाध्यक्ष को लेकर जातिगत समीकरण को लेकर भी पार्टी के उच्च स्तर को अवगत कराने की जानकारी सामने आ रही है। जिले से कुल ११ कांग्रेसजन ने जिलाध्यक्ष पद के लिए दावेदारी की है। पिछले दिनों जिले के पार्टी विधायकों और वरिष्ठ नेताओं से अपनी पसंद के दावेदारों के तीन-तीन नाम पार्टी के उच्च स्तर पर मांगे गए थे। इसके बाद इसमें कटौती करते हुए अपनी पसंद के एक-एक दावेदार का नाम जिलाध्यक्ष पद के लिए देने को कहा गया था। पार्टी ने कांग्रेस जिलाध्यक्ष के पद को लेकर सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना, राज्य मंत्री सुरेन्द्रसिंह जाड़ावत, बड़ीसादड़ी से प्रकाश चौधरी और बेगूं विधायक राजेन्द्र ङ्क्षसह बिधूड़ी से भी राय ली है। इन वरिष्ठ नेताओं से राय के बाद अब जिलाध्यक्ष का ताज सौंपने को लेकर उल्टी गिनती शुरू हो गई है। जिलाध्यक्ष की घोषणा के बाद ही इस बात का खुलासा हो पाएगा कि किस नेता की सहमति किस दावेदार के नाम पर रही।
एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत ने उड़ाई दावेदारों की नींद
एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत ने उड़ाई दावेदारों की नींद

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

भूस्खलन से हिमाचल में 100 से अधिक सड़कें ठप, चार दिन भारी बारिश का अलर्टबिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें Listमध्यप्रदेश में बाढ़ के हालात, सात जिलों में राहत-बचाव का काम शुरू, लोगों को घरों से निकालाMaharashtra: खाने को लेकर कैटरिंग मैनेजर पर भड़के शिवसेना MLA संतोष बांगर, कर्मचारी को जड़ दिए थप्पड़कश्मीरी पंडित की हत्या मामले में सामने आई मनोज सिन्हा, महबूबा मुफ्ती व उमर अब्दुल्ला की प्रतिक्रिया, जानिए क्या कहाअब राजस्थान के अलवर जिले में बवाल, भारी पुलिस बल तैनात, बाजार पूरी तरह से बंदराजस्थान में दलित बच्चे की मौत का मामला: अब सामने आया जालोर MLA का बड़ा बयानबिहार कैबिनेट में अगड़ी जातियों का दबदबा खत्म, भूमिहार से 2 तो ब्राह्मण से मात्र 1 मंत्री, यादव से सबसे अधिक 8 मंत्री
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.