लोक परिवहन बस को ट्रक ने मारी टक्कर, दो बीएड छात्राओं सहित तीन यात्रियों की मौत

चित्तौडग़ढ़-उदयपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर रिठोला के निकट शुक्रवार दोपहर उदयपुर से आ रही लोक परिवहन की बस ट्रक की टक्कर के बाद एक मोटनरसाइकिल को चपेट में लेते हुए पलट गई, इससे बस में सवार दो बीएड छात्राओं सहित तीन यात्रियों की मौत हो गई और बाईस घायल हो गए, जिनमें से दो को गंभीरावस्था में उदयपुर रेफर किया गया है।

By: jitender saran

Published: 12 Feb 2021, 09:24 PM IST

चित्तौडग़ढ़
पुलिस के अनुसार लोक परिवहन की एक बस शुक्रवार दोपहर उदयपुर से चित्तौडग़ढ़ की तरफ आ रही थी। रिठोला में चित्रकूट रिसोर्ट के निकट सीकर से शराब की पेटियां लेकर उदयपुर की तरफ तेज गति से जा रहे ट्रक ने बस के पिछले हिस्से को टक्कर मार दी। यह टक्कर इतनी भीषण थी कि बस मौके पर ही पलट गई। टक्कर घुस गया। दुर्घटना में बस में सवार मंगलवाड़ निवासी किरण प्रकाश (२६) पुत्र गोपाल लाल सारस्वत, मधुवन चित्तौडग़ढ़ निवासी ज्योत्सना कंवर (२३) पत्नी सूर्यवीर सिंह व गंगरार क्षेत्र के माल का खेड़ा निवासी रामू (२२) पुत्री चंदा गुर्जर की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि बस में सवार भदेसर निवासी रमेश (३५) पुत्र लालू, भीलों का बेदला निवासी तुलसीबाई (४५) पत्नी धन्ना, किशन करेरी निवासी उदयलाल (४३) पुत्र बालू सुथार, भादसोड़ा निवासी रूकसाना (२६) पत्नी सद्दीक मोहम्मद, चंदेरिया निवासी श्यामलाल (२५) पुत्र शंकरलाल रेगर, भीलों का बानेला निवासी मंजू (२५) पत्नी मदनलाल, सेगवा निवासी मनोहर (५५) पुत्र भंवरलाल शर्मा, बेगूं निवासी मनीषा खटीक (२४) पत्नी भंवरलाल, भादसोड़ा निवासी मोइनुद्दीन (एक माह) पुत्र असलम, घोसुण्डा निवासी नीरू (२५) पुत्र बरदीचंद नायक, गुड्डी बाई (२४) पत्नी नीरू नायक, लोयरा उदयपुर निवासी न्यालीबाई (४०) पत्नी घीसूलाल, पोटला भदेसर निवासी भैरूलाल (३५) पुत्र ओंकारलाल, बांसवाड़ा निवासी गोपाल कंवर (५०) पत्नी हिम्मत सिंह, लोयरा उदयपुर निवसी पन्नालाल (२५) पुत्र घीसूलाल, बस्सी निवासी भावना सुखवाल (२०), गांधी नगर निवासी स्वाति, भीलों का बेदला उदयपुर निवासी धन्नालाल (६०) पुत्र चेनराम, गांधी नगर निवासी कविता पुत्री ओमप्रकाश टेलर, बस्सी निवासी अरूण बारेठ पुत्र भगवतीलाल, भादसोड़ा निवासी बानू बेगम (४०) पत्नी शरीफ मोहम्मद व बानेगा उदयपुर निवासी थावरी बाई (४०) पत्नी गणेश घायल हो गए। घायलों को सांवलिया जी राजकीय सामान्य चिकित्सालय में भर्ती कराया गया, जहां से रमेश व तुलसीबाई को गंभीरावस्था में उदयपुर रेफर कर दिया। सूचना मिलने पर जिला कलक्टर केके शर्मा, अतिरिक्त जिला कलक्टर रतन कुमार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक तृप्ती विजयवर्गीय, उपखण्ड अधिकारी श्यामसुंदर विश्नोई, पुलिस उप अधीक्षक मनीष शर्मा, सदर थाना प्रभारी दर्शन सिंह, कोतवाल तुलसीराम पुलिस जाप्ते सहित पहले दुर्घटना स्थल व बाद में सांवलिया जी अस्पताल पहुंचे व घायलों के उपचार के बारे में जानकारी ली।
मोटरसाइकिल आई चपेट में
दुर्घटना में पलटते समय बस ने एक मोटरसइकिल को भी चपेट में ले लिया, इससे मोटरसाइकिल सवार घोसुण्डा निवासी नीरू नायक, उसकी पत्नी गुड्डी घायल हो गई। नीरू की एक साल की पुत्री चंचल को खरोंच तक नहीं लगी। अस्पताल में नीरू घायलावस्था में भी बच्ची को लेकर बेड पर लेटा रहा।
जनप्रतिनिधि पहुंचे अस्पताल
दुर्घटना की जानकारी मिलते ही पूर्व विधायक सुरेन्द्र सिंह जाड़ावत, नगर परिषद सभापति संदीप शर्मा, युवक कांग्रेस के पूर्व वरिष्ठ महासचिव अभिमन्यु सिंह जाड़ावत, पूर्व जिला परिषद सदस्य मोहनसिंह भाटी, पार्षद विजय चौहान अस्पताल पहुंचे। इन जनप्रतिनिधियों ने हादसे में मृत यात्रियों के प्रति संवेदना व्यक्त की। इसके बाद भाजपा जिलाध्यक्ष गौतम दक, विधायक चंद्रभानसिंह आक्या ने जयपुर से मोबाइल पर दुर्घटना की जानकारी लेते हुए मृत बस यात्रियों के प्रति संवेदना व्यक्त की। भाजपा के दीनदयाल उपाध्याय मंच के प्रदेशाध्यक्ष सुरेश झंवर, जिला महामंत्री तेजपाल रेगर, नगर अध्यक्ष सागर सोनी, जिला मीडिया प्रभारी सुधीर जैन, पूर्व नगर अध्यक्ष नरेंद्र पोखरना, जिला कोषाध्यक्ष शैलेन्द्र झंवर, पूर्व पार्षद नवीन पटवारी, दिनेश कोदली, राजू अग्रवाल, विधायक प्रवक्ता गिरीश दीक्षित आदि ने अस्पताल पहुंचकर घायलों की कुशलक्षेम पूछी।
मृतकों के परिजन व घायलों को आर्थिक सहायता
जिला कलक्टर शर्मा ने हादसे में मृत बस यात्रियों के परिजनों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से एक-एक लाख रूपए, गंभीर घायलों को बीस-बीस हजार रूपए व साधारण घायलों को ढाई-ढाई हजार रूपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है।
चिकित्सालय स्टाफ रहा मुस्तैद
पूर्व विधायक सुरेन्द्रसिंह जाड़ावत ने हादसे की जानकारी मिलते ही सांवलिया जी अस्पताल के स्टाफ को अलर्ट कर दिया। इसके बाद पीएमओ डॉ. दिनेश वैष्णव सहित कई चिकित्सक और नर्सिंग स्टाफ अस्पताल पहुंच गया। घायलों के वहां पहुंचते ही चिकित्सकों व नर्सिंगकर्मियों ने उनका उपचार शुरू कर दिया। अस्पताल में मौजूद पूव्र्र विधायक जाड़ावत ने घायलों से जानकारी लेकर उनके परिजनों को मोबाइल पर सूचना दी और करीब एक घंटे तक अस्पताल में ही रहकर घायलों के उपचार व अन्य सहायता की व्यवस्था संभाले रहे।
मच गया कोहराम, बंधाते रहे ढांढस
दुर्घटना के बाद अस्पताल में घायलों व मृतकों के परिजनों के रूदन से कोहराम मच गया। वहां मौजूद जनप्रतिनिधि उन्हें ढांढस बंधाते रहे। दुर्घटना स्थल पर किसी की चप्पल सड़क पर पड़ी हुई थी तो किसी का लोठा और गिलास सड़क पर बिखरी हुई थी। मौके पर जगह-जगह खून बिखरा हुआ था। दुर्घटना कारित करने वाले ट्रक में शराब भरा होने की सूचना पर आबकारी विभाग के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और जांच की तो पता चला कि शराब परिमिट शुदा थी और यह शराब सीकर से उदयपुर ले जाई जा रही थी।
पहली बार गईं थी बीएड कॉलेज
मृतकों में शामिल ज्योत्सना कंवर व रामू गुर्जर शुक्रवार को पहली बार उदयपुर में बड़वई स्थित बीएड कॉलेज गई थी। वहां यह दोनों छात्राएं प्रशिक्षण ले रही थी। वहां से लोक परिवहन की बस में चित्तौडग़ढ़ लौटते समय दुर्घटना में इनकी मौत हो गई।
आरटीओ ने लिखा परियोजना निदेशक को पत्र
इधर दुर्घटना के बाद प्रादेशिक परिवहन अधिकारी जगदीश प्रसाद बैरवा ने एनएचएआई के परियोजना निदेशक भीलवाड़ा को पत्र लिखकर चित्तौडग़ढ़-उदयपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर चित्रकूट होटल के सामने बने कट को बंद करवाने का आग्रह किया है। बैरवा ने पत्र में लिखा है कि इस कट से अचानक ट्रक गुजरने के कारण शुक्रवार को दुर्घटना में तीन यात्रियों की मौत हो गई। इस कट का कोई औचित्य नहीं है। भविष्य में भी यहां दुर्घटनाएं हो सकती है, इसलिए जनहित को ध्यान में रखते हुए इस कट को तत्काल बंद करने की कार्रवाई करने को कहा गया है।

jitender saran Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned