बीस लाख की चंदन व खैर की गीली लकडिय़ां जब्त, पिता-पुत्र गिरफ्तार

जिला पुलिस की विशेष टीम ने निकुंभ थानान्तर्गत सादलखेड़ा गांव में खेत पर बने मकान पर दबिश देकर भारी मात्रा में चंदन व खैर की गीली लकडिय़ां जब्त की है। यह लकडिय़ां उदयपुर, डूंगरपुर व बांसवाड़ा के जंगल से काटने का खुलासा हुआ है। पुलिस ने इस संबंध में पिता-पुत्र को गिरफ्तार किया है।

By: jitender saran

Published: 03 Jan 2020, 12:19 PM IST

चित्तौडग़ढ़
पुलिस अधीक्षक अनिल कयाल ने बताया कि जिला पुलिस की विशेष टीम के प्रभारी शिवलाल मीणा के नेतृत्व में टीम के सदस्यों ने विश्वसनीय सूचना के आधार पर सादलखेड़ा गांव में खेत पर बने अच्चु खां पुत्र अहमददीन खां के मकान पर दबिश दी। इस दौरान वहां से ४.७६ क्ंिवटल चंदन की गीली लकडिय़ां व खेत पर खुले में पड़ी २२४.६५ क्ंिवटल खैर की गीली लकडिय़ां जब्त की गई। पुलिस ने मौके से मुख्य आरोपी सादलखेड़ा निवासी दौलत खां उर्फ भीरा खां पुत्र अहमददीन खां तथा उसके पिता अहमददीन पुत्र हफिज खां को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में बताया कि जब्त की गई चंदन व खैर की लकडिय़ां उदयपुर, डूंगरपुर व बांसवाड़ा के जंगल से काटी गई। इसके बाद इन्हें मशीनों से तैयार किया गया।
पान-मसाला फैक्ट्रियों को सप्लाई
आरोपियों ने पुलिस को बताया कि यह लकडिय़ां उत्तरप्रदेश, दिल्ली व हरियाणा में स्थित गुटखा, पान मसाला फैक्ट्रियों में गुटखा व पान मसाला बनाने में उपयोग होने वाले कत्था बनाने में काम लिया जाता है। इन फैक्ट्रियों को ऊंचे दाम में यह लकडिय़ां बेची जाती है। दबिश के दौरान एक बार तो पुलिस जाप्ता भी चंदन व खैर की भारी मात्रा में लकडिय़ां देखकर सन्न रह गया। तीसरा आरोपी अच्चु खां पुत्र अहमददीन अंधेरे का फायदा उठाकर मौके से फरार हो गया, जिसकी पुलिस तलाश कर रही है। चंदन व खैर की लकडिय़ों की अनुमानित कीमत करीब बीस लाख रूपए बताई जा रही है।
इस टीम ने की कार्रवाई
मकान पर दबिश देने वाली टीम में प्रभारी मीणा सहित निकुंभ थाना प्रभारी सुरेश विश्नोई, सहायक उप निरीक्षक जुल्फकार खां, सिपाही प्रमोद, सुरेश, काशीराम, विकास, नरेन्द्र, सुरेन्द्रपाल, अशोक व ललितसिंह शामिल थे।

jitender saran Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned