फैक्ट्री में करा रहे थे मजदूरी, पांच बच्चों को किया रेस्क्यू

फैक्ट्री में करा रहे थे मजदूरी, पांच बच्चों को किया रेस्क्यू
फैक्ट्री में करा रहे थे मजदूरी, पांच बच्चों को किया रेस्क्यू

kalulal lohar | Publish: Oct, 09 2019 11:36:49 PM (IST) Chittorgarh, Chittorgarh, Rajasthan, India

भीलवाड़ा चितौडग़ढ़ राजमार्ग स्थित एक फैक्ट्री पर पुलिस के सहयोग से दबिश देकर हुए चाईल्स लाइन की ओर से मजदूरी कर रहे पांच बच्चों को रेस्क्यू किया गया।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने पुलिस को दिया मामला दर्ज करने का आदेश
चितौडग़ढ़/गंगरार. भीलवाड़ा चितौडग़ढ़ राजमार्ग स्थित एक फैक्ट्री पर पुलिस के सहयोग से दबिश देकर हुए चाईल्ड लाईन (Child line) की ओर से मजदूरी कर रहे पांच बच्चों को रेस्क्यू किया गया। वहीं इस मामले में पुलिस की ओर से प्राथमिक की दर्ज करने से इंकार करने के बाद जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से पुलिस अधीक्षक को प्रकरण दर्ज करने के आदेश दिए है।
थानाधिकारी लाभूराम विश्रोई ने बताया कि मेडीखेड़ा के समीप स्थित सीमेन्ट से निर्मित होने वाले सामान की फैक्ट्री में चार बालक बिहार के तथा एक बालक उतर प्रदेश का मजदूरी का कार्य कर रहा था। फैक्ट्री संचालक की ओर से उनसे कठोर मेहनत करवाई जारही थी । सूचना चाईल्ड लाईन चितौडग़ढ़ के निदेशक भेाजराजसिंह ,कोर्डिनेटर सकीरा बानू व टीम सदस्य कैलाश चन्द्र तथा थानाधिकारी लाभूराम विश्रोई फैक्ट्री पहुंचे तथा नियमानुसार कार्रवाई कर रेसक्यू करवाया। बाद में चारों बच्चों को बाल कल्याण समिति के सुपुर्द कर दिया गया। थानाधिकारी ने बताया कि इस संबन्ध में अनुसंधान जारी है। वहीं इस मामले में चाइल्ड लाइन के भोजराज सिंह ने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को एक पत्र प्रेषित किया जिसमें बताया कि इस मामले में गंगरार थाना पुलिस प्रकरण दर्ज करने में अनाकानी कर रही है। इस पर प्राधिकरण के सचिव ने पुलिस अधीक्षक को लिखित में आदेश देकर कहा है कि इस मामले में गंगरार थाना पुलिस को प्रकरण दर्ज करने के लिए पाबंद कर कार्रवाई कर सूचित करने को कहा गया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned