नौकर बनने की चाहत में सवा तोला सोना व नकदी गंवाई

नौकर बनने की चाहत में सवा तोला सोना व नकदी गंवाई
नौकर बनने की चाहत में सवा तोला सोना व नकदी गंवाई

Jitender Saran | Publish: Oct, 09 2019 11:30:02 PM (IST) Chittorgarh, Chittorgarh, Rajasthan, India

कभी अनिष्ठ होने के नाम पर तो कभी नजर उतारने और भगवान के दर्शन कराने का झांसा देकर शहर में एक के बाद एक ठगी की वारदातें होती रही है। बुधवार को खरीदारी करने आए एक ग्रामीण से दो युवक सेठ के यहां नौकरी दिलाने के झांसे में लेकर दिन-दहाड़े सवा तोला वजनी सोने की रामनामी व दो हजार रूपए लेकर फरार हो गए। आरोपी सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया है।

चित्तौडग़ढ़
कभी अनिष्ठ होने के नाम पर तो कभी नजर उतारने और भगवान के दर्शन कराने का झांसा देकर शहर में एक के बाद एक ठगी की वारदातें होती रही है। बुधवार को खरीदारी करने आए एक ग्रामीण से दो युवक सेठ के यहां नौकरी दिलाने के झांसे में लेकर दिन-दहाड़े सवा तोला वजनी सोने की रामनामी व दो हजार रूपए लेकर फरार हो गए। आरोपी सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया है।
जानकारी के अनुसार मिश्रों की पिपली गांव में रहने वाला किशनलाल पुत्र भागीरथ गुर्जर बुधवार को अपनी पुत्री सुंदर (१०) व पुत्र प्रहलाद (७) को साथ लेकर कपड़े खरीदने के लिए मोटर साइकिल पर चित्तौडग़ढ़ आया था। यहां नेहरू बाजार में एक दुकान के बाहर मोटरसाइकिल खड़ी कर वह अपने दोनों बच्चों को लेकर पैदल ही कपड़े खरीदने जा रहा था। इसी दौरान उसे एक युवक मिला, जो किशन को बातों में फंसा कर कहने लगा कि हमारे सेठ जी को घर में काम करने के लिए एक आदमी की आवश्यकता है अगर तुम इच्छुक हो तो मैं तुम्हारी नौकरी लगवा सकता हूं। किशन उसकी बातों में आकर नौकरी करने के लिए तैयार हो गया। युवक उसे झांसे में लेकर उसी की मोटरसाइकिल पर बैठकर अशोक नगर की तरफ ले गया और अपने कथित सेठजी से मिलवाने की बात कही। वहां ले जाकर युवक ने किशन को कथित सेठजी बनकर खड़े एक युवक से मिलवाया। जिसने दो फोटो और आधार कार्ड लेकर आने को कहा। इसी दौरान मोबाइल पर बात करते हुए युवक ने किशन को कहा कि सेठजी ने सुनार ने रामनामी बनवाई थी, जो अलग डिजाइन की बना दी है ऐसा कह कर उसने किशन से उसके गले में पहनी करीब सवा तोला वजनी रामनामी और मोती उतरा कर अपने सुनार को दिखाकर आने की बात कही। युवक उससे दो हजार रूपए भी ले गया। कुछ देर बात कथित सेठ बना युवक भी वहां से फरार हो गया। किशन को ठगी का अहसास हुआ तो उसने कोतवाली पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई।
सीसीटीवी फुटेज में दिखा युवक
जानकारी मिलते ही कोतवाली से सहायक उप निरीक्षक संग्राम सिंह घटना स्थल पर पहुंचे और आसपास की दुकानों पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले जिसमें किशन अपने दोनों बच्चों के साथ एक युवक को लेकर मोटरसाइकिल पर आता नजर आया इसके अलावा एक व्यक्ति भी दूसरी मोटरसाइकिल पर उनके पीछे आता हुआ दिखाई दिया। फुटेज के आधार पर पुलिस फरार हुए युवकों की तलाश कर रही है।
पहले हो चुकी शहर में ये वारदातें
केस 1
गत १३ मई २०१९ को शहर के नेहरू बाजार क्षेत्र में बारू निवासी और हाल सूरत में रह रही कमला बाई (५८) पत्नी स्व. रमेशचन्द्र बोहरा के साथ हुई थी, जिसे दुकान की बुरी नजर उतारने का झांसा देकर दो ठग डेढ तोला वजनी सोने की चेन व तीन हजार रूपए की ठगी कर ले गए थे। सीसीटीवी फुटेज मेंदो ठग साफ नजर आ रहे थे, लेकिन इसके बावजूद पुलिस उन तक नहीं पहुंच पाई।

केस 2
गत १३ जुलाई २०१९ को शहर के मेजर नटवरसिंह उमा स्कूल के बाहर भाई से मिलने जा रही धनेत कलां निवासी ओमप्रकाश जोशी की पत्नी यशोदा (६२) से दो युवकों ने खुद को हरिद्धार का बता एक बैंक का पता पूछा। युवकों ने महिला को बातों में उलझा गले में पहनी डेढ तोला वजनी सोने की चेन व हाथ में पहनी आधा तोला वजनी अंगूठी एक युवक के रूमाल में रखकर वह चलने लगी। कुछ ही कदम चलकर पीछे देखा तो दोनों युवक वहां से फरार हो चुके थे।

केस 3
चित्तौडग़ढ़ शहर में ठगी की यह वारदात कोई पहली बार नहीं हुई है। इससे पहले भी कभी भगवान के दर्शन करवाने के नाम पर तो कभी दुख-दर्द का निवारण करने के नाम पर महिलाओं को ठगी का शिकार बनाया जा चुका है। गत २ मार्च २०१९ को शास्त्री नगर क्षेत्र में अंजाम देने का प्रयास किया गया। तब पन्नाधाय कॉलोनी निवासी मनोहर अग्रवाल की पत्नी प्रेमलता के साथ हुई थी, लेकिन तब ठग वारदात को अंजाम देने में सफल नहीं हो सके थे।
केस 4
पावटा चौक निवासी जेती बाई (७०) पुत्र स्व. माधुलाल प्रजापत पिछले करीब चार साल से यहां कलक्ट्रेट चौराहा स्थित प्याऊ पर पानी पिलाने का काम करती है। १२ सितंबर को दोपहर में दो युवक प्याऊ पर आए, जिन्होंने वहां पानी पीने के बाद जेती बाई से कहा कि उन्हें कोई बुला रहा है। युवकों की बातों पर विश्वास करते हुए वृद्धा प्याऊ के ताला लगाकर उनके पीछे-पीछे चली गई। युवक उसे लढ़ा क्लिनिक वाली गली में ले गए। वहां वृद्धा से एक दुकान के बाहर बिठाकर कान में पहनें सोने के टॉप्स व गले से मांदलिया खुलवा लिया। बाद में दोनों युवक आभूषण लेकर वहां से फरार हो गए थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned