ऐसा क्या बोल गए मंत्री कि देखते रह गए शिकायत करने वाले

ऐसा क्या बोल गए मंत्री कि देखते रह गए शिकायत करने वाले
ऐसा क्या बोल गए मंत्री कि देखते रह गए शिकायत करने वाले

Nilesh Kumar Kathed | Updated: 23 Sep 2019, 11:37:33 PM (IST) Chittorgarh, Chittorgarh, Rajasthan, India

ईफ और बट सुनना मेरी आदत नहीं
खाद्य मंत्री ने एसडीएम और विकास अधिकारी का लताड़ा
सर्किट हाउस में की जनसुनवाई



चित्तौडग़ढ़. चित्तौडग़ढ़ उपखण्ड के समेलपुरा में स्कूल एवं सरकारी आबादी भूमि पर अवैध अतिक्रमण एवं कब्जे नहीं हटाने और कार्रवाई नहीं करने पर सोमवार को खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री रमेश मीणा ने चित्तौडग़ढ़ के उपखण्ड अधिकारी एवं विकास अधिकारी को जमकर लताड़ लगाई। उन्होंने सात दिन में अतिक्रमण हटाने के निर्देश देते हुए कहा कि इफ और बट सुनने की मेरी आदत नहीं है।
सोमवार को खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री रमेश मीणा एवं प्रभारी मंत्री भजन लाल जाटव ने सोमवार को यहां सर्किट हाऊस में जनसुनवाई की।जनसुनवाई के दौरान उपखण्ड के सेमलपुरा के ग्रामीण वहां स्थित सरकारी स्कूल एवं सरकारी आबादी भूमि पर अतिक्रमण करने की शिकायत लेकर पहुंचे। शिकायत में आरोप लगाया कि अतिक्रमण की शिकायत लम्बे समय से कर रहे है और प्रशासनिक अधिकारियों शिकायत करने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस पर मंत्री रमेश मीणा ने चित्तौडग़ढ़ उपखण्ड अधिकारी विनोद कुमार से जवाब तलब किया। एसडीएम ने कहा कि यह मामले में न्यायालय से स्टे लेकर आ गए है। इस पर मंत्री ने एसडीएम को लताड़ लगाते हुए कहा कि आपने कार्रवाई नहीं की इसलिए अतिक्रमणकारियों को कोर्ट में जाने का समय मिल गया। इस पर एसडीएम कोई जवाब नहीं दे सके। उन्होंने विकास अधिकारी राजेन्द्र शर्मा को फटकार लगाते हुए कहा कि वहां पर सरकारी भूमि पर दुकानों का निर्माण हो गया आप क्या कर रहे हो। अगर मामला कोर्ट में है तो उसके लिए अपनी ओर से मजबूत पक्ष रखो। सात दिन में अतिक्रमण हटाकर मुझे रिपोर्ट करो। सरकारी जमीनों पर किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
जाटव बोले पहले भी आया था मामला
इसी दौरान प्रभारी मंत्री भजन लाल जाटव ने कहा कि यह मामला पूर्व में भी हुई जनसुनवाई के दौरान मेरे समक्ष आया था। उस समय भी अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इससे मंत्री मीणा ने तीखे तेवर दिखाते हुए कहा कि इस मामले में कोई इफ और बट नहीं चलेगा। पूर्व विधायक सुरेन्द्र सिंह जाड़ावत ने भी इस दौरान कहा कि इस मामले को लेकर अधिकारी गंभीर नहीं है।
गिरदावरी नहीं हो रही, सड़के भी टूटी है
जनसुनवाई के दौरान बनाकिया कला एवं तुम्बडिया के ग्रामीण पहुंचे। उन्होंने कहा कि तुम्बडिया राजीव गांधी सेवा केन्द्र से बनाकियाखुर्द तक डामरीकरण रोड़ नहीं होने से लोगों को परेशानी हो रही है।वहां पूर्व में डामरीकरण हुआ उसमें घटिया सामग्री का उपयोग किया गया। जिससे सड़क पूरी तरह से उखड़ गई।अब लोगों और छात्र-छात्राओं को प्रतिदिन आने जाने में परेशानी हो रही है। इस पर मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि निर्माण में घटिया सामग्री का उपयोग की जांच की जाये। इस दौरान ग्रामीणों ने फसलों के खराबे की गिरदावरी कराने की भी मांग की। भदेसर में भी सरकारी भूमि पर अतिकमण करने की शिकायत पर उन्होंने अधिकारियों से कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
मैं झूठ नहीं बोलता
सुनवाई के दौरान एक प्रार्थी ने अपनी शिकायत पर मंत्री से पूछा की कब कार्रवाई होगी तो वो बोले मैं झूठ नहीं बोलता जो भी नियमानुसार होगा वह कार्रवाई होगी। प्रभारी सचिव संजय मल्होत्रा भी परिवाद आने पर अधिकारियों को निर्देशित करते रहे। वहीं कई बार मंत्री से अधिकारियों के बचाव की मुद्रा में भी दिखे। जनसुनवाई के दौरान जिला कलक्टर शिवांगी स्वर्णकार, पुलिस अधीक्षक अनिल कयाल,पूर्व विधायक सुरेन्द्र सिंह जाड़ावत, प्रकाश चौधरी, कांग्रेस जिलाध्यक्ष मांगी लाल धाकड़, सभापति संदीप शर्मा, आनन्दी राम खटीक सहित जिले के जनप्रतिनिधि एवं विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned