ये कैसी स्वच्छता, किस नदी तट पर लगा गदंगी का ढेर

स्वच्छ भारत मिशन की गूंज के बीच चित्तौडग़ढ़ में कई जगह ऐसी भी है जहां अस्वच्छ नजारे पेश हो रहे है। स्वच्छ नदियों के दावे के बीच हकीकत विपरीत है। शहर के मध्य से गुजर रही गंभीरी नदी में इन दिनों कई जगह पॉलीथिन की थैलियों आदि गदंगी का ढेर लगा हुआ है। पुलिया से गुजरते समय भी ये हालात साफ दिखते है। गदंगी नजर आने के बावजूद स्वच्छ करने की पहल नहीं की जा रही है।

By: Nilesh Kumar Kathed

Updated: 20 Jul 2020, 10:58 AM IST

चित्तौडग़ढ़. स्वच्छ भारत मिशन की गूंज के बीच चित्तौडग़ढ़ में कई जगह ऐसी भी है जहां अस्वच्छ नजारे पेश हो रहे है। स्वच्छ नदियों के दावे के बीच हकीकत विपरीत है। शहर के मध्य से गुजर रही गंभीरी नदी में इन दिनों कई जगह पॉलीथिन की थैलियों आदि गदंगी का ढेर लगा हुआ है। पुलिया से गुजरते समय भी ये हालात साफ दिखते है। गदंगी नजर आने के बावजूद स्वच्छ करने की पहल नहीं की जा रही है। गंभीरी नदी पर शंकरघट्टा के यहां गोस्वामी दशनाम आखाडा भी स्थित है। कई वर्षों से यहां शहर के कई व्यक्ति आकर स्नान करते हैं। उनकी दैनिक दिनचर्या की शुरुआत इसी नदी से होती है। वर्तमान में पूरे शहर का कचरा गंदगी इस नदी में आकर गिरता है जिससे यह नदी पूरी तरह से अपनी अस्तित्व को खोते नजर आ रही है। यहां पिछले आठ-दस वर्ष से साफ सफाई करते योगेश शर्मा पेशे से अध्यापक है। उन्होंने बताया कि उनका उद्देश्य प्रकृति को बचाना है गंदगी करने वाले से लड़ाई झगड़े करने के बजाय ऊर्जा जगह पर सफाई करने में लगाते हैं। यहां कभी कोई नेता आता है तो सफाई हो जाती है बाकी कुछ नहीं होता। मंदिर परिसर में नदी के आसपास शौच करते हैं जो इस नदी में आकर मिलती है जिससे भी कोई रोकने वाला नहीं है। शर्मा का कहना है कि यहां अगर साफ सफाई की व्यवस्था हो तो पूरा इलाका बहुत खूबसूरत बन जाएगा। इस नदी पर आए दिन मछलियां पकडऩे वालों का जमावड़ा लगा रहता है उन्हें रोक के जाने पर वह लड़ाई झगड़ा करने पर उतारू हो जाते है। इस नदी के समीप धर्मस्थान भी है जहां प्रतिदिन काफी संख्या में श्रद्धालु आते हैं और पूजा अर्चना करते हैं।

नदी की कराएंगे सफाई
गंभीरी नदी में गदंगी फैली होगी तो उसे प्राथमिकता से साफ कराया जाएगा। नदियों व सरोवर स्वच्छ रखना हमारी प्राथमिकता में है। ये स्वच्छ रहे इसके लिए सभी नागरिकों का सहयोग भी जरूरी है।
संदीप शर्मा, सभापति, नगर परिषद, चित्तौडग़ढ़

Nilesh Kumar Kathed
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned