किसने कहा कि जल संरक्षण के लिए लोगों को जागरूक करें

चित्तौडग़ढ़. जिले के निम्बाहेड़ा स्थित पंचायत समिति सभागार में निम्बाहेड़ा ब्लॉक कोर ग्रुप के तत्वावधान एवं भारत सरकार गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव केबी सिंह के मुख्य आतिथ्य व एसडीएम पंकज शर्मा की अध्यक्षता में जल शक्ति अभियान की ब्लॉक स्तरीय बैठक हुई।

By: Vijay

Published: 07 Jul 2019, 08:43 PM IST

जल अभावग्रस्त क्षेत्र में चित्तौडग़ढ़ जिला भी शामिल
चित्तौडग़ढ़. जिले के निम्बाहेड़ा स्थित पंचायत समिति सभागार में निम्बाहेड़ा ब्लॉक कोर ग्रुप के तत्वावधान एवं भारत सरकार गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव केबी सिंह के मुख्य आतिथ्य व एसडीएम पंकज शर्मा की अध्यक्षता में जल शक्ति अभियान की ब्लॉक स्तरीय बैठक हुई। प्रधान जशोदा मीणा विशिष्ट थी। जल शक्ति अभियान के नोडल एवं विकास अधिकारी कैलाशचंद्र बसेर ने बताया कि क्षेत्र में गिरते हुए जल स्तर के रोकथाम एवं जल के संरक्षण व बचाव के संबंध में विस्तार से बैठक में चर्चा की गई। मुख्य अतिथि सिंह ने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा पूरे देश के सभी जिलों में भूमि के अंदर जल की क्षमता का सर्वे करवाया गया है। इसमें देश के कुल 256 जिलो को जल अभावग्रस्त घोषित किया गया है, इसमें चित्तौडग़ढ़ जिला भी शामिल है। उन्होंने कहा की जल संरक्षण के लिए ठोस उपाय नही किए गए तो भविष्य में जल की कमी का सामना करना पड़ सकता हैै।
एसडीएम शर्मा ने अधिकारियों से आव्हान किया की गिरते हुए जलस्तर को लेकर गम्भीरता से जल बचाव के लिए लोगों को जागृत करें, साथ ही बारिश के पानी का संरक्षण करने के उपयो को जनजन तक पहुंचा कर जल की कमी को दूर करने का प्रयास करे बैठक के पश्चात अधिकारियों द्वारा वंडर सीमेंट के पाटनी पब्लिक विद्यालय में पौधारोपण कर "पेड़ लगाओ, पानी बरसाओं" की महत्ता को दर्शाया गया। बैठक में राजेन्द्र कुमार सोनी, ओमप्रकाश स्वामी, अतुल जैन, राजेश पूंगलिया, अविनाश करजगीर, अनिल जैन, फतेहलाल सोनी सहित ब्लॉक स्तरीय अधिकारी, सरपंचगण एवं ग्राम विकास अधिकारी उपस्थित थे।

Vijay Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned