scriptWill not have to look back for water even for fifty years | पानी के लिए पचास साल तक भी मुड़कर नहीं देखना पड़ेगा | Patrika News

पानी के लिए पचास साल तक भी मुड़कर नहीं देखना पड़ेगा

मुख्यमंत्री ने चित्तौडग़ढ़ विधानसभा क्षेत्र को चंबल के पानी की ऐसी सौगात दे दी है कि अब आने वाले पचास साल तक भी पेयजल को लेकर मुड़कर नहीं देखना पड़ेगा। वर्ष २०५३ तक की आबादी को ध्यान में रखकर यह योजना बनाई गई है और इसके लिए ६५३ एमसीएफटी पानी के लिए भी स्वीकृति दे दी गई है।

चित्तौड़गढ़

Published: January 14, 2022 09:35:56 pm

चित्तौडग़ढ़
अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य वरिष्ठ नेता सुरेन्द्रसिंह जाड़ावत ने गुरूवार को मीडिया से यह बात कही। उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस का शासन नहीं था, तब स्थानीय जनप्रतिनिधि ने कहा था कि यहां मेडिकल कॉलेज की आवश्यकता नहीं है। मेडिकल कॉलेज मंजूर होने के बावजूद पूरे पांच साल तक इस मामले को ठण्डे बस्ते में डाल दिया गया पर अब कांग्रेस शासन आते ही मुख्यमंत्री ने लोगों की भावनाओं की कद्र करते हुए यहां मेडिकल कॉलेज का काम शुरू करवा दिया, जो लोगों की सेहत को लेकर मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने पांचवीं और आठवीं तक के सवा सौ विद्यालय बंद कर दिए। जबकि मुख्यमंत्री गहलोत ने वर्ष २००० में जहां बीस विद्यार्थी भी थे, उनके लिए राजीव गांधी पाठशाला शुरू कर दी थी। जाड़ावत ने आरोप लगाया कि विधायक ने अपने व्यवसाय और व्यापार को बढाने के अलावा कोई काम नहीं किया। चित्तौडग़ढ़ विधान सभा क्षेत्र के विकास के लिए अपनी सरकार से एक रूपया भी नहीं ला सके।
पानी के लिए पचास साल तक भी मुड़कर नहीं देखना पड़ेगा
पानी के लिए पचास साल तक भी मुड़कर नहीं देखना पड़ेगा
मार्च तक शुरू हो जाएगा चंबल प्रोजेक्ट पर काम
जाड़ावत ने कहा कि चित्तौडग़ढ़ विधानसभा क्षेत्र को दी गई चंबल के पानी की सौगात आने वाली पीढिय़ां याद रखेगी। मार्च २०२२ तक इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि कृषि बजट को लेकर भी मुख्यमंत्री को सुझाव दिए गए हैं।
अब प्रधानमंत्री की बारी है
जाड़ावत ने कहा कि प्रदेश में यूरिया की किल्लत चल रही है। केन्द्र सरकार ने समय पर यूरिया आयात नहीं की। दुर्भाग्य से भाजपा के जीते हुए प्रतिनिधि केन्द्र सरकार के बजाय राज्य सरकार से यूरिया की मांग कर रहे हैं। जबकि यह व्यवस्था केन्द्र सरकार की है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार केन्द्र से कई बार यूरिया की मांग कर चुकी है। उन्होंने आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार की गलत नीतियों के कारण किसानों की हालत खराब हो गई है। डीजल, गैस और खाद्य सामग्री लगातार महंगी होती जा रही है। बेरोजगारी बढती जा रही है। मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिए देश के कई बड़े सरकारी संस्थानों को निजी हाथों में दिया जा रहा है।
चित्तौड़ को मिली यह सौगातें
जाड़ावत ने कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत ने चित्तौडग़ढ़ विधानसभा क्षेत्र में मेडिकल कॉलेज के लिए ३२५ करोड़, चंबल के पानी के लिए १०२५ करोड़ रूपए स्वीकृत किए हैं। इसके अलावा बीएससी नर्सिंग महाविद्यालय, सेमलपुरा में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, नेतावल महाराज, अरनियापंथ, देवरी, रोलाहेड़ा व अभयपुर में पीएचसी भवन निर्माण, ५८ उप स्वास्थ्य केन्द्रों पर वेलनेस सेंटर, महिला एवं बाल चिकित्सालय में एमएनसीयू युनिट, जिला अस्पताल में इफयूलेंट ट्रीटमेंट प्लांट, फायर फाइटिंग का कार्य, जिला अस्पताल के अपग्रेडेशन व रिनोवेशन कार्य, मनोरोगी वार्ड का निर्माण, ड्रग कंट्रोलर ऑफिस भवन निर्माण, चार ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट, चौगावड़ी, सिरोड़ी, बैजनाथिया, आमोलिया, जालमपुरा, बड़ोदिया, सहनवा, नेतावल महाराज और शादी में नई पेयजल योजना सहित कई सौगातें दी है।
हमने हार कर भी बहुत कुछ कर दिखाया
जाड़ावत ने कहा कि वर्तमान विधायक पांच साल तक अपनी सरकार होने के बावजूद चित्तौडग़ढ़ विधानसभा क्षेत्र को कुछ भी नहीं दे पाए, लेकिन हमने तो चुनाव हारने के बाद भी विधानसभा क्षेत्र के लिए चंबल के पानी, मेडिकल कॉलेज और बीएससी नर्सिंग महाविद्यालय की सौगात दिलवाने सहित कई विकास कार्य करके दिखा दिए। इस दौरान जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष प्रमोद सिसोदिया, शहर कांग्रेस अध्यक्ष प्रेमप्रकाश मूंदड़ा, ग्रामीण ब्लॉक अध्यक्ष त्रिलोकचंद जाट, रमेशनाथ, पुष्पा जाट, आजाद पालीवाल, जाकिर हुसैन व मोहनङ्क्षसह भाटी मौजूद रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Corona Update in Delhi: दिल्ली में संक्रमण दर 30% के पार, बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,383 नए मामलेSSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगानिलंबित एडीजी जीपी सिंह के मोबाइल, पेन ड्राइव और टैब को भेजा जाएगा लैब, खुल सकते हैं कई राजUP Election 2022: सपा कार्यालय में आयोजित रैली में टूटा कोविड प्रोटोकॉल, लखनऊ के गौतमपल्ली थाने में सपा नेताओं पर FIR दर्जGujarat Hindi News : दो अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में दो छात्राओं समेत पांच की मौत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.