script23 lakh 60 thousand deposited, waiting for investigation | 23 लाख 60 हजार जमा करवाए, जांच का इंतजार | Patrika News

23 लाख 60 हजार जमा करवाए, जांच का इंतजार

चूरू. पिछले लंबे समय से भारी वाहनों के लिए बंद आरओबी के लिए सरकार के स्तर पर प्रयास किए जाने हैं। इसको लेकर विभाग ने 23 लाख 60 हजार रूपए सीआरआरआई (सेंटर रोड रिसर्च इंस्टीटयूट) नई दिल्ली को जमा करवा दिए हैं।

चुरू

Published: May 18, 2022 11:26:32 am

चूरू. पिछले लंबे समय से भारी वाहनों के लिए बंद आरओबी के लिए सरकार के स्तर पर प्रयास किए जाने हैं। इसको लेकर विभाग ने 23 लाख 60 हजार रूपए सीआरआरआई (सेंटर रोड रिसर्च इंस्टीटयूट) नई दिल्ली को जमा करवा दिए हैं। अब इस टीम के आने का इंतजार है। ये रूपए जमा करवाने के बाद काफी समय हो गया लेकिन अभी तक इसकी जांच नहीं हो पाई है। ऐसे में भारी वाहनों को चूरू-जयपुर रोड पर पहुंचने के लिए अग्रसेन नगर से होकर गुजरना पड़ रहा है। भारी वाहनों का कॉलोनी में से आवागमन होने के कारण लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। 26 सितंबर 2018 को इसके महत्वपूर्ण भाग के क्षतिग्रस्त हो जाने के कारण भारी वाहनों का दबाव सहने की क्षमता संदिग्ध के घेरे में आ गई है। विभाग के अधिकारियों को अनेक बार आरओबी की क्षमता जांच एवं आवश्यक मरम्मत के लिए लिखा जा चुका है लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है। उस समय तत्कालीन जिला कलक्टर संदेश नायक ने पीडब्ल्यूडी की अतिरिक्त मुख्य सचिव वीनू गुप्ता को पत्र लिखकर जिला मुख्यालय पर स्थित रेलवे ओवरब्रिज (एलसी 168 सी) की आवश्यक मरम्मत कर भारी वाहनों का आवागमन शुरू कराने का आग्रह किया है। उन्होंने ने पत्र में लिखा था कि आरयूआईडीपी की ओर से यह ओवरब्रिज बनाकर सानिवि को सुपुर्द किया जा चुका है। इसलिए अभियंताओं को आवश्यक कार्यवाही एवं भारी वाहनों के लिए इसकी उपयुक्तता 30 करोड़ रूपए की लागत से बना था आरओबी
बता दें कि शहर का पहला आरओबी जब से बना है तब से विवादों के घेरे में रहा है। तत्कालीन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने साल 2013 में करीब 30 करोड़ की लागत से बने शहर के इस पहले आरओबी की शहरवासियों को सौगात दी थी। महज पांच साल बाद ही यह आरओबी इस कदर क्षतिग्रस्त हो गया कि बड़े और भारी वाहनों के लिए इसे बंद करना पड़ गया। तब से जांच के नाम पर अधिकारी इस शहर की सबसे बड़ी समस्या पर टालमटोल करते आ रहे हैं लेकिन समस्या जस की तस बरकरार है।

23 लाख 60 हजार जमा करवाए, जांच का इंतजार
23 लाख 60 हजार जमा करवाए, जांच का इंतजार

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.