आखिर नारायणी सेना ने क्यों मांगी फांसी

पड़ौसी जिले के ग्रामीण थाना क्षेत्र में पांच वर्षीय बालिका से बलात्कार किए जाने की घटना के विरोध में नारायणी सेना कार्यकर्ताओं ने रोष जताया तथा जुलूस निकालकर विरोध प्रदर्शन किया।

By: Madhusudan Sharma

Published: 26 Feb 2021, 12:15 PM IST

सादुलपुर. पड़ौसी जिले के ग्रामीण थाना क्षेत्र में पांच वर्षीय बालिका से बलात्कार किए जाने की घटना के विरोध में नारायणी सेना कार्यकर्ताओं ने रोष जताया तथा जुलूस निकालकर विरोध प्रदर्शन किया। बसपा नेता पूर्व विधायक मनोज न्यांगली सहित सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। सेन समाज के अध्यक्ष हनुमानप्रसाद दिनोदिया, नारायणी सेना के अध्यक्ष आनंद चौहान, संयुक्त व्यापार मंडल के अध्यक्ष पवन मोहता, पार्षद हैदर अली, राहुल पारीक, महेन्द्र दिनोदिया, गोवर्धन नाई, हरिकिशन भाटी, पुरूषोत्तम चौहान, जुगलकिशोर रोहिवाल, पूनम चांगिल, भवानीशंकर पंवार, सतीश रोहिवाल, मुकेश चांगल, जयप्रकाश रजलीवाल, गोपीराम नाई सहित सैंकड़ों लोग जुलूस के रूप में नगर के प्रमुख मार्गों से होते हुए मिनी सचिवालय पहुंचे तथा घटना के विरोध में नारेबाजी कर विरोध जताया। ज्ञापन में बताया कि घटना से संपूर्ण समाज आहत है तथा संवेदनाओं को झकझोर देने वाली है। ज्ञापन में आरोपी को शीघ्र फांसी की सजा दी जाने की न्यायिक प्रक्रिया तय समय में पूर्ण करने, पीडि़त के परिजनों को 25 लाख का मुआवजा सरकार की तरफ से दिए जाने, परिवार को पूर्ण सुरक्षा उपलब्ध करवाने, पीडि़त परिवार में से किसी एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी देने की मांग की है।

Show More
Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned