लंबा हो रहा हाईमास्ट लाइट का इंतजार

दो माह पहले पोल लगाकर छोड़ दिए

By: Rakesh gotam

Published: 07 Jun 2018, 10:46 PM IST

लाडनूं.

 

कस्बे में मुख्य स्थानों पर हाईमास्ट लगने के बाद इनके दूधिया रोशनी से सराबोर होने का इंतजार लंबा होता जा रहा है।चयनित स्थानों पर हाईमास्ट लगाने के लिए नगरपालिका ने दो माह पहले खंभे तो लगवा दिए। मगर आज तक इन पर लाइट नहीं लग पाई है। जानकारी के अनुसार कस्बे के सात मुख्य स्थानों पर हाईमास्ट लाइटें लगाने का निर्णय पालिका की ओर से किया गया था। इसके लिए पालिका ने सात जगहों का चयन कर यहां पर खम्भे लगाने का कार्य पूर्ण कर दिया। वहीं विद्युत कनेक्शन के लिए भी पालिका की ओर से कागजी कार्रवाई पूरी कर दी गई। मगर अभी तक लाइट लगने का काम अधरझूल में है। लाइटें ईईएसएल कंपनी की ओर से लगाई जानी है। हालांकि लाइटें लगाने के लिए कंपनी व डीएलबी को नगर पालिका की ओर से दो बार पत्र भी भेजा जा चुका है।

 

इन स्थानों पर लगनी है लाइटें
जानकारी के अनुसार कस्बे में बस स्टैंड, शहरिया बास, बड़ा बास, शिवमंदिर के पास, स्टेशन के पास, स्टेडियम के पास, रघु राठौड़ी बाग के पास हाईमास्ट लाइटें लगाई जानी है।

 

एलईडी लाइटें भी एक तिहाई ही लगी
शहर के वार्डों में रास्तों पर एलईडी लाइटें लगाने का काम भी बहुत धीमी गति से चल रहा है। जानकारी के अनुसार लाडनूं शहर में ४४०० एलईडी लाइटें लगाई जानी है। लेकिन अभी तक वार्डों में सिर्फ १४०० एलईडी लाइटें ही लग पाई हैं। एलइडी लाइटें लगाने को लेकर पार्षद कई बार बैठक में भी मुद्दा उठा चुके हैं। इसके बावजूद निजी कम्पनी एलईडी लाइटें लगाने को लेकर गंभीर नहीं है। उल्लेखनीय है कि कस्बे वासी शहर की इन सार्वजनिक स्थानों पर लंबे समय से हाईमास्ट लाइटें लगाने की मांग करते आ रहे थे। लेकिन लापरवाही एवं ढिलाई के चलते काम शुरू नहीं हो पा रहा था। जब काम शुरू हुआ तो अटक-अटक कर चलने लगा। इसमें जिस कंपनी को ठेका दिया गया वह गंभीर नजर नहीं आ रही है। हालांकि नगर पालिका पत्र भी लिख चुकी है। लेकिन कंपनी काम अपने हिसाब से ही कर रही है।

Rakesh gotam Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned