borwell: तीन साल के सुभाष को निकालने के लिए दस घंटे चला रेस्क्यू, हार गई जिंदगी

बीदासर. बिलख-बिलख कर रो पड़े।

By: manish mishra

Published: 27 Mar 2020, 10:19 PM IST

बीदासर. बीदासर कस्बे के निकटवर्ती ढाणी कालेरान में 700 फीट गहरे बोरवैल में 180 फीट पर फंसे तीन साल के सुभाष गढ़वाल को निकालने के लिए दस घंटे रेस्क्यू अभियान चला। बीकानेर की एसडीआरएफ व अजमेर की एचडीआरएफ टीम ने काफी प्रयासों के बाद बच्चे को बाहर निकाला। लेकिन जब तक मासूम की मौत हो चुकी थी। बच्चे की मौत का समाचार सुनकर मां बेहोश हो गई, पिता बिलख-बिलख कर रो पड़े। जानकारी के अनुसार गुरुवार शाम मासूम का पिता सोहनराम गढ़वाल खेत में बोरवैल की मशीन खराब होने पर बीदासर ठीक करवाने के लिए था, लेकिन बोरवेल ढकना भूल गया। जिसके चलते तीन साल का सुभाष उसमें खेलते-खेलते गिर गया। घटना की जानकारी प्रशासन व पुलिस को देने पर कलक्टर संदेश नायक, एसपी तेजस्वनी गौतम सहित अनेक अधिकारी मौके पर पहुंचे।प्रशासन की ओर से रेस्क्यू के लिए बीकानेर व अजमेर से टीम बुलाई।

बीकानेर व चूरू टीम के पास नहीं संसाधन

मामले को लेकर एक बहुत बड़ी लापरवाही भी सामने आई, बीकानेर की एसडीआरएफ व चूरू की टीम के पास कोई साधन नहीं थे।ऐसे में बचाव कार्य शुरू नहीं हो पाया।रात करीब 1.30 बजे अजमेर से सीआई हसंराज के नेतृत्व में 20 सदस्यों की एचडीआरएफ टीम मौके पर पहुंची। जिन्होंने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया, करीब तीन घंटे के बाद टीम ने बच्चे को बाहर निकाला। साण्डवा सीएचसी के चिकित्सक मनीष सोनी के नेतृत्व मे आई स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बीदासर सीएचसी ले गए, जहां मासूम सुभाष को मृत घोषित कर दिया।

बरसात भी बनी आफत

बोरवैल में मासूम गिरने के बाद हल्की बरसात का दौर शुरू हो गया। जो रूक रूक कर जारी रहा। बारिश में अजमेर से आई टीम ने लेकिन बरसात के दौरान ही आई टीमों ने मासूम को निकालने के लिए काम जारी रखा। प्रशासन ने सिलेंडर के जरीए 180 फ ीट की गहराई पर फंसे बच्चे को बचाने के लिए कृत्रिम ऑक्सीजन छोड़ी गई। इस मौके परसुजानगढ के एएसपी सीताराम माहिच, डीएसपी नरेन्द्र शर्मा, एसडीएम श्योराम वर्मा, तहसीलदार अम्मीलाल यादव, विकास अधिकारी हरीराम चौहान, सरपंच धर्मवीर पूनिया, बीदासर के थानाधिकारी सत्येन्द्र कुमार, साण्डवा के ईन्द्रलाल शर्मा, छापर के राजीव रायलआदि मौजूद रहे।

मर्ग दर्ज

थानाधिकारी सत्येन्द्र कुमार ने बताया कि मृतक मासूम के पिता सोहनलाल ने रिपोर्ट दी कि गुरुवार की शाम मेरे खेत मे बोरवेल की मोटर खराब हो गई थी। जिसको निकालकर बोरवैल को बोरी से ढंककर मोटर ठीक करवाने के लिए, बीदासर आ गया तथा पीछे से बेटा बोरवैल में गिर गया। पुलिस ने राजकीय सीएचसी पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौप दिया।

manish mishra
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned