जेल के सीसीटीवी कैमरे खंगाले

जिला जेल में बंदी से मारपीट के मामले में पुलिस छानबीन में जुट गई है। इसको लेकर जेल प्रशासन ने सीसीटीवी की फुटेज भी देखे और  प्रकरण की जानकारी हासिल की

By: शंकर शर्मा

Published: 16 Apr 2016, 11:42 PM IST

चूरू. जिला जेल में बंदी से मारपीट के मामले में पुलिस छानबीन में जुट गई है। इसको लेकर जेल प्रशासन ने सीसीटीवी की फुटेज भी देखे और  प्रकरण की जानकारी हासिल की। प्रथम दृष्टया जेल प्रशासन मारपीट और हाथा-पाई जैसी बात को स्वीकार नहीं कर रहा है। इस संबंध में जेल उपाधीक्षक मंगलचंद राठी ने शुक्रवार को भी जेल में प्रकरण की छानबीन की।

इधर शुक्रवार को आरोपित बंदी के पिता ने जेल उपाधीक्षक से मुलाकात कर न्याय दिलाने की मांग की है। जानकारी के अनुसार सद्दीक खान ने जिला जेल उपाधीक्षक को शिकायत पत्र देकर बताया कि वह 302 के मामले में चार साल से न्यायिक अभिरक्षा में  है। उसे चूरू जेल से पेशी के लिए रतनगढ़ ले जाया गया।

वहां से पेशी भुगतकर चूरू जेल वापस लाया गया। उसके साथ चालानी गार्ड महेन्द्र व मोहन थे। जेल के बाहर डयूटी पर तैनात आरएसी के जवान देवराज, राइफल गार्ड छोटूराम उसकी तलाशी ले रहे थे। यहां तैनात जवान शिवदान ने उससे मारपीट की और पैसे मांगे। छाया में तलाशी लेने की बात कही तो वे नहीं माने। दोपहर 12 से एक बजे तक तीन बार तलाशी के नाम पर परेशान किया।

उल्लेखनीय है
इससे पहले जेल सुरक्षा कांस्टेबल छोटूराम ने कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि दोपहर 12.30 बजे चालानी गार्ड महेन्द्र और मोहनलाल बंदी सद्दीक खान को चूरू जेल लेकर आए। जेल के दरवाजे के बाहर आरोपित की तलाशी ली। इस दौरान आरोपित बंदी ने कांस्टेबल से मारपीट व धक्का-मुक्की की। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।  

 पूरे प्रकरण की जानकारी डीजी जेल, डीआईजी जोधपुर, एसपी जेल बीकानेर को दे दी गई है। सीसीटीवी फुटेज देखने से यह कहीं नहीं लग रहा कि थप्पड़ किसने मारी। प्रकरण की जांच की जा रही है। प्रकरण में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। -एमसी राठी, उपाधीक्षक जिला जेल, चूरू
शंकर शर्मा
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned