janta carfu: थाली, ताली व शंखनाद से गूंजा चूरू

चूरू. थाली, ताली बजाई गई।

By: manish mishra

Published: 22 Mar 2020, 09:10 PM IST

चूरू. कोरोना के खिलाफ छिड़ी ने चूरू की जनता ने भी खूब साथ निभाया। जनता ने न केवल जनता कफ्र्यू में भागीदारी निभाई। बल्कि शाम के पांच बजते ही ताली, थाली, घंटियां व शंख की ध्वनी से गूंज उठा। जिला मुख्यालय के गायत्री नगर, शीतला मंदिर, प्रतिभा नगर, चांदनी चोक, इन्दिरा कॉलोनी, अगुणा मोहल्ला, कालेरा बास, गांधी नगर, झारिया मोरी, बारह महादेव, गढ़ परिक्षेत्र, रामगढिय़ा दरवाजा, मोहल्ला तेलियान, सातड़ा कॉलोनी, सैनिक बस्ती, वन विहार, पंखा सर्किल, सेकसरिया कुआं परिक्षेत्र आदि क्षेत्रों में ये गूंज सुनाई दी। साहवा व लाडनूं में भी थाली, ताली बजाई गई।सुजानगढ़. शाम को लोगो ने घरों के बाहर व छत के उपर चढ़कर थाली, शंख, झालर, नगाड़ा, ढ़ोल, घंटी या अन्य वस्तुएं बजाकर पीएम को भरोसा दिलाया कि पूरे शहरवासी कोरोना को हराने के लिए एकजुट है।बीदासर. शाम 5 बजे घरों की छतों पर महिलाओ, युवको बच्चों थाली, घण्टी बजाकर बचाव में लगे अधिकारीयो व कर्मचारीयो का आभार जताया।राजलदेसर. शाम पांच बजते ही लोगों ने अपने-अपने घरों की छातों, बालकोनियों व मुख्य द्वार के सामने कोरोना महामारी के खिलाफ छेड़े गए जंग के दौरान ड्यूटि कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों, सेना के जवानों, पुलिसकर्मियों, प्रशासन के समस्त अधिकारियों, कर्मियों को धन्यवाद ज्ञापित किया।सादुलपुर. शाम पांच बजते ही थाली एवं ताली, ढोल, ताशे एवं शंखनाद सुनाई देने लगे। मुख्य बाजार घंटाघर, पुराने सरकारी अस्पताल के पास, महाराणा प्रताप चौक, रेगरान मोहल्ला, रामबास आदि क्षेत्रों में थाली एवं तालियों की गूंज सुनाई देने लगी। वहीं मंदिरों में घंटी एवं शंखनाद की आवाज गूंजती रही। इसके अलावा दुपहिया वाहन चालक भी युवक थाली एवं घंटी बजाते हुए खुशी जता रहे थे। वहीं रोहिल्ला नर्सिंग होम में डॉ. हरिराम रोहिल्ला के नेतृत्व में कार्मिकों ने थाली बजाकर प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया। इसके अलावा गांव हरपालू में स्थित गोकुलगिरि धाम में आभार जताया। इस अवसर पर जिला परिषद सदस्य कुलदीप पूनिया, गीतादेवी शकुंतला, पल्लवी, आस्था ने भागीादारी निभाई।सरदारशहर. जनता कफ्र्यू के दौरान शाम को 5 बजे कोरोना वायरस के खिलाफ आमजन का सहयोग करे रहे लोगों के मनोबल बढ़ाने के लिए लोग अपने घरों की छत, बालकनी आदि स्थानों पर थाली, शंख, नगाड़े, तालिया, घंटिया बजाकर सहयोग करने वाले लोगों का मनोबल बढ़ाया। शाम पांच बजे से पूरा शहर पांच मिनट के लिए घण्टों एवं तालियों की गूंज से गुंजायमान हो गया।

manish mishra Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned