Corona Effect: गणगौर माता की सवारी पर भी लगा ब्रेक

Corona Effect: कोरोना-19 वायरस को रोकने के लिए केंद्र सरकार व राज्य सरकार के दिशा-निर्देंशों को देखते हुए कस्बे इस वर्ष गणगौर ( Gangaur Mata ) माता की सवारी नहीं निकाली जाएगी।

Brijesh Singh

26 Mar 2020, 01:06 PM IST

रतननगर. कोरोना-19 वायरस को रोकने के लिए केंद्र सरकार व राज्य सरकार के दिशा-निर्देंशों को देखते हुए कस्बे इस वर्ष गणगौर ( Gangaur Mata ) माता की सवारी नहीं निकाली जाएगी। गणगौर सवारी कमेटी रतननगर ने यह निर्णय लिया है। 27 मार्च शुक्रवार को शिवजी-गौपालजी मंदीर प्रांगण में सवारी विराजेगी। दर्शनार्थी दोपहर 2 बजे से सायं 7 बजे तक 1 मीटर की दूरी बनाकर गणगौर माता की पूजा-अर्चना कर सकते है।

सरदारशहर. ताल ट्रस्ट संयोजक शोभाकांत स्वामी ने बताया कि कोरोना संक्रमण रोकथाम के चलते ताल मैदान स्थित जौहरी गणगौर घाट पर इस बार गणगौर के अवसर पर किसी भी प्रकार का कोई विशेष आयोजन नही होगा। जोहड़ में भी गणगौर विसर्जन की अनुमति नही होगी। उधर, रतनगढ़ में प्रधानाचार्य संदीप व्यास के घर पर उनके सुपुत्र नवीन की मंगेतर जोधपुर निवासी दीक्षा के सिंजारे की परम्परागत रस्म मोबाइल पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की गई।

नवीन के ताऊ और ताई यह रस्म ट्रेन से जोधपुर जाकर करने वाले थे, पर ट्रेन रद्द होने व घर से बाहर नहीं निकलने के निर्देशों की पालना में उन्होंने यह कार्य करने के लिए बुधवार सुबह घर में ही चौकी पर मोबाइल सजाकर दीक्षा को ऑन लाइन बुलाया और प्रतीकात्मक रूप से सिंजारे का सामान भेंट किया। उधर, रतनगढ़ में न निकलेगी सवारी, न ही भरेगा मेला। जानकारी के मुताबिक, इस बार २७ मार्च को न तो तीज पर गणगौर की सवारी निकाली जाएगी और न ही मेला भरेगा। पालिकाध्यक्ष इन्द्र कुमार ने यह जानकारी दी।

चूरू की ताजा खबरों के लिए यहां क्लिक करें...

Brijesh Singh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned