गांवों में गहराया पेयजल संकट, पानी के लिए भटक रहे ग्रामीण

जिले में गर्मी के परवान चढने के साथ ही शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल संकट गहराने लगा है। लोग सार्वजनिक नलों पर बर्तनो की कतार लगा रहे हैं लेकिन पानी की आपूर्ति नहीं हो रही है।

By: Madhusudan Sharma

Published: 20 May 2021, 10:19 AM IST

चूरू. जिले में गर्मी के परवान चढने के साथ ही शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल संकट गहराने लगा है। लोग सार्वजनिक नलों पर बर्तनो की कतार लगा रहे हैं लेकिन पानी की आपूर्ति नहीं हो रही है। जलदाय विभाग की ओर से बेतरतीब तरीके से की गई नहरबंदी का असर अब गांवों में नजर आने लगा है। नहरबंदी करने से पूर्व रिजर्व वायर भरे नहीं गए। ऐसे में अब पानी का संकट गहराने लगा है। इसी क्रम में चूरू तहसील के गांव खंडवा के भी ऐसे ही हाल हैं। जहां लोग पानी के संकट से जूझ रहे हंै। गांव के सार्वजनिक नल सूखे पड़े हैं और लोगों को पानी नहीं मिल रहा है। ग्रामीणों का आरोप है कि एक माह से पानी का संकट बना हुआ है। इस समस्या से जलदाय विभाग के अधिकारियों को कई बार अवगत कराया जा चुका है लेकिन समस्या जस की तस है। खंडवा में पानी की सप्लाई भालेरी हैड से होती है। जो ऊंट के मुंह में जीरे के समान है। ग्रामीणों ने बताया कि भालेरी से कोहिण के बीच आपणी योजना की पाइप लाइन से लाखों लीटर पानी चोरी हो रहा है लेकिन कोई कार्रवाई विभाग की ओर से नहीं की जा रही है। ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि समय पर यदि पानी की आपूर्ति नहीं की गई तो आंदोलन किया जाएगा।

Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned