तौकाते का असर, दिनभर बूंदाबांदी

अरब सागर की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान तौकाते का असर चूरू में भी देखने को मिला। पिछले तीन दिन से आसमां में बादल छाए हुए हैं। जिसके कारण लोगों को गर्मी से राहत मिली।

By: Madhusudan Sharma

Published: 20 May 2021, 09:59 AM IST

चूरू.अरब सागर की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान तौकाते का असर चूरू में भी देखने को मिला। पिछले तीन दिन से आसमां में बादल छाए हुए हैं। जिसके कारण लोगों को गर्मी से राहत मिली। बुधवार को दिनभर रिमझिम झडी लगी रही। जिससे लोगों को गर्मी से निजात मिली। चूरू में एक एमएम बारिश रिकॉर्ड हुई। इधर तूफान की संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए सभापति पायल सैनी और आयुक्त हेमाराम चौधरी ने शहर के रामसरा बाईपास रोड, जयपुर पुलिया के नीचे, मौसम विभाग के पास तथा जिला उद्योग केन्द्र के आस-पास झुग्गी झोपडिया बनाकर रहे लोगों के हाल जाने। सभापति ने लोगों से कहा कि वे तूफान की सूचना पर घबराएं नहीं। नगरपरिषद प्रशासन व सरकार आपके साथ है। आयुक्त हेमाराम चौधरी ने बताया कि इन सभी परिवारों को सूचीबद्ध कर लिया है और आपदा के समय में इन परिवारो को आश्रय स्थल, पार्थ सिटी एवं शहर की बंद धर्मशालाओं में रहने की व्यवस्था की जाएगी। निरीक्षण के दौरान वार्ड पार्षद सुशीला सुण्डा भी मौजूद रही।
सादुलपुर. अरब सागर से उठे चक्रवाती तूफान तौकाते का असर दिनभर क्षेत्र में रहा। दिनभर रिमझिम बारिश जारी रही। मौसम में बदलाव के कारण ठंडी हवाएं चली। जिससे लोगों ने गर्मी और तेज धूप से राहत महसूस की।
छापर. तौकाते तूफान का असर कस्बे मे भी देखने को मिला। कस्बे में पूरे दिन बादल छाये रहे। वहीं दिन भर रूक रूक कर बूंदाबांदी होती रही। बूंदाबांदी मंगलवार रात से बुधवार सुबह तक जारी रहा। रात भर चले बूंदाबांदी के दौर से कस्बे की गलियां बरसाती पानी से भर गई। राजकीय चिकित्सालय के सामने व चेतोलायी शिवालय सड़क सहित रेगर बस्ती के आम रास्ते पर बरसाती पानी जमा हो गया।
घांघू. क्षेत्र में बुधवार तड़के से ही बूंदाबांदी का का दौर शुरू हुआ जो शाम तक जारी रहा। चक्रवात के कारण दिनभर ठण्डी हवाओं से मौसम सुहाना हो गया। दिनभर सूर्य बादलों की ओट में छिपा रहा। मौसम इतना ठण्डा हो गया की बुजुर्ग कम्बल में लिपटे नजर आए। बुजुर्ग किशोरीलाल दर्जी ने बताया की वैशाख माह में भी मौसम ने पलटी खाई और सावन जैसी बूंदाबांदी दिनभर रही।
सुजानगढ़. क्षेत्र में मामूली बूंदाबांदी का दौर रात से बुधवार शाम तक जारी रहा। तहसील कार्यालय के भू अभिलेख निरीक्षक असलम खां के अनुसार पिछले 24 घंटे में 32एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई है। सरपंच सुरेन्द्रसिंह राठौड़ के अनुसार गांव डूंगसरा आथुणा, बालेरा में रिमझिम बारिश का दौर दिनभर चलता रहा।
सांखू फोर्ट. चक्रवात के असर से गुरुवार को दिनभर बैशाख में सावन जैसी झड़ी लगी रही। आसमान में बादलों की आवाजाही रही और बूंदाबांदी होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। देर शाम तक तेज हवा के साथ बूंदाबांदी का दौर जारी रहा।
तूफान के दौरान सहयोग के निर्देश
लाडनूं. राजस्थान राज्य भारत स्काउट एवं गाइड संघ के जिला सहायक कमिश्नर रामदेव सिंह पूनिया ने तौकाते तूफान के दौरान ब्लॉक के स्काउट व गाइड से पुलिस, प्रशासन व आमजन की हर सम्भव मदद कर सहयोग करने व आपदा की घड़ी में कर्तव्य निर्वहन की बात कही। उपखण्ड प्रशासन को परमाराम पोटलिया, जगदीश प्रसाद घिंटाला, निर्मल मौर्य, पन्नाराम, रिछपाल गोदारा, चंद्राराम मेहरा, गुमाना राम, शकूर खां, राजकुमार पंवार व मंजू ढाका को अलग-अलग जिम्मेदारी देकर अलर्ट रहने व तमाम तरह का सहयोग करने की अपील की।

Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned