कलम और कैमरे पर बंदूक का पहरा: टिकैत

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि कलम व कैमरे पर बंदूक का पहरा है। इसलिए भारतीय मीडिया की बजाय विदेशी मीडिया में किसान आंदोलन को सही दिखाया जा रहा है ।

By: Madhusudan Sharma

Published: 02 Mar 2021, 09:36 PM IST

सुजानगढ़. किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि कलम व कैमरे पर बंदूक का पहरा है। इसलिए भारतीय मीडिया की बजाय विदेशी मीडिया में किसान आंदोलन को सही दिखाया जा रहा है । टिकैत मंगलवार रात 9 बजे भोजलाई चौराहा पर वीरेंद्र कस्बा के आवास पर पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आंदोलन का लाभ यदि राजनीतिक पार्टियां ले रही है तो लेने दो। दो पूंजीपतियों ने कानून बनने से पहले ही बड़े गोदाम बना लिए जो देश को लूट कर कब भाग जाए पता नहीं चलेगा। टिकैत का सरपंच विश्वजीत कस्बा, ओम प्रकाश खीचड़ ,सीताराम चौधरी, के डी चारण ,दामोदर शर्मा, लीलाधर बल्हारा, राजेंद्र पूनिया ,वीरेंद्र कस्बा, लक्ष्मण गोदारा ने स्वागत किया । इस अवसर पर किसान नेता राजाराम मील व युधिष्ठर सिंह मौजूद थे। टिकैत का वीरेंद्र कस्वा, सीताराम चौधरी आदि ने स्वागत किया। गौरतलब है कि टिकैत मंगलवार को झुंझुनूं में किसान सम्मेलन को संबोधित करने आए थे। वहां से वे देर शाम को सुजानगढ़ में रूके। जहां पर उन्होंने किसान नेताओं से मुलाकात की और आंदोलन में भागीदारी निभाने का आह्वान किया।

Show More
Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned