साहवा में ओले गिरे, चूरू में बूंदाबांदी

जिला मुख्यालय पर देर शाम को बूंदाबांदी ने सर्दी के असर को तेज कर दिया है। दिनभर गर्मी का अहसास रहा। लेकिन शाम को हलकी हवा चलने के साथ ही मौसम ने पलटा खाया।

By: Madhusudan Sharma

Published: 27 Nov 2019, 03:32 PM IST

चूरू. जिला मुख्यालय पर देर शाम को बूंदाबांदी ने सर्दी के असर को तेज कर दिया है। दिनभर गर्मी का अहसास रहा। लेकिन शाम को हलकी हवा चलने के साथ ही मौसम ने पलटा खाया। रात करीब आठ बजे बूंदाबांदी शुरू हुई। वहीं सरदारशहर के रणसीसर गांव में आकाशीय बिजली गिरने से पांच बकरियों की मौत हो गई। इधर मौसम विभाग के अनुसार अधिकतम तापमान 26 और न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सैल्सियस रिकॉर्ड किया गया।
साहवा. साहवा सहित आसपास के गांव में बारिश के बाद अचानक हुई ओलावृष्टि से तापमान में गिरावट होने से सर्दी अधिक बढ़ गई। मंगलवार अपराह्न 3:30 बजे अचानक ओलावृष्टि शुरू हुई, जिसमें चने के आकार के ओलों से सड़क पर सफेद चादर सी बिछी नजर आई। करीब 10 मिनट तक ओले गिरते रहे।बूंदा बूंदी से चनों की खड़ी फसल में काफी फायदा होगा।
राजलदेसर. दिन भर मंगलवार को आसमान पर छाए बादलों के बाद शाम झमाझम बारिश शुरू हुई । तेज हवाओं तथा मेघ गर्जना के साथ शुरू हुई बारिश से सर्दी बढ़ गई । बारिश से कस्बे के निचले हिस्सों तथा आम रास्तों पर बरसाती पानी जमा हो गया । कस्बे के व्यापारी अपने प्रतिष्ठान बंद कर घरों में दुबक गए गए। बरसात शुरू होते ही बिजली गुल हो गई। तेज हवाओं व मेघ गर्जना तथा आकाशीय बिजली की चमक के साथ तेज बारिश का दौर जारी रहा।
रतनगढ.नगर में देर शाम हुई बादलों की गडगड़़ाहट के बाद हुई मध्यम गति की रिमझिम बरसात से मौसम में यकायक ठंडक बढ़ गई। 6.45 बजे शुरू हुई बरसात से जनजीवन प्रभावित हुआ औऱ बाजारों में आवागमन बहुत कम हो गया।

Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned