प्रदूषण के इस दौर में हर घर में तैयार की जा रही बागवानी

बढ़ रहा प्रदूषण लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है। इसे कम करने के लिए हर स्तर पर प्रयास हो रहे हैं। हालात यह है कि अब तो शहरों में ऑक्सीजन व हवा को शुद्ध रखने के लिए जंगल तैयार किए जा रहे है।

By: Madhusudan Sharma

Published: 26 Feb 2021, 11:33 AM IST

सुजानगढ़. बढ़ रहा प्रदूषण लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है। इसे कम करने के लिए हर स्तर पर प्रयास हो रहे हैं। हालात यह है कि अब तो शहरों में ऑक्सीजन व हवा को शुद्ध रखने के लिए जंगल तैयार किए जा रहे हंै। घर के अन्दर रखे पौधे तीन तरह से काम करते है। कार्बन डाइऑक्साइड को सोख कर ऑक्सीजन देते है। प्रदूषण गैस एवं तत्वों को सोख लेते है। साथ ही वातावरण में नमी को बढ़ाते हंै। उपखण्ड क्षेत्र में अनेक पर्यावरण प्रेमी है। वार्ड चार की संतोष बच्छेरा अपने घर पर पेड़-पौधे लगाए हुए हैं। इन्होने सात वर्ष पहले एक-एक पौधे से शुरुवात की थी, आज करीब 50 प्रकार के सैकड़ो पौधों की सार-सम्भाल कर रही है। । घर पर केला, तीन प्रकार कंडिल, दो प्रकार के गुडहल, तीन प्रकार की तुलसी आदि पौधे लगे हैं। नयाबास के पं. मोहनलाल शास्त्री, सूर्य भगवान मन्दिर के पास की किरणदेवी सहित तीन दर्जन स्थानों पर गृहणी महिलाओं ने घर को हरा भरा व रंग-बिरंगे फूलों से सजाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है।

हर घर में ये पौधे, हवा को करते है शुद्ध
मनी प्लांट यह मिट्टी ओर पानी दोनों जगह फलता है। हवा से फॉर्मलीडीहएड को भी दूर करने में मदद करता है। नीम दूषित हवा को साफ करता है। केला भी घर की बाहर की हवा को शुद्ध करने का काम करता है। तुलसी पौधा 24 में से 20 घंटे सिर्फ ऑक्सीजन छोड़ता है। कार्बन मोनो ऑक्साइड, कार्बन डाई ऑक्साइड व सल्फर डाइऑक्साइन को अच्छे से सोख लेता है। एलोवेरा औषधीय गुणों से भरपूर है। वातवरण से फॉर्मलडिहाइड ओर बेंजीन रसायन को दूर करता है।

घर में ऐसे बढ़ता है ऑक्सीजन लेवल
पौधे जब प्रकाश संश्लेषण यानी भोजन बनाने की प्रक्रिया करते है। तो कार्बन डाई ऑक्साइड, पानी ओर सूर्य की रोशनी लेते हैं और ऑक्सीजन छोड़ते हंै। इंडोर पौधे घरो के अंदर ये काम बिना सूर्य की रोशनी के करते है। इनसे हवा शुद्ध होती है।

हवा शुद्ध करते है ये इंडोर प्लांट
हवा शुद्ध करने के लिए एरेका पाम, जैड-जैड प्लांट, इंग्लिश आइवरी, सिंगोनियम प्लांट, बेबू प्लांट, सांसेविरिया, रबर, लेडी पाम, पाम ट्री, जरबेरा, फाइकस बेंजामिया प्लांट हवाओ को शुद्ध करते है।

इनका कहना है
स्वास्थ्य की दृष्टि से हमारे आसपास हरियाली का वातावरण होना चाहिए। घर में किचन गार्डन,
टेरिस व बालकनी में हरियाली रखें। एसी और हीटर का उपयोग नुकसानदायक है। शरीर का तापमान एकदम कम या ज्यादा नहीं होना चाहिए। ऐसी स्थिति में इम्युनिटी कमजोर होना व बीमारियां होने की सम्भावना रहती है।
डॉ. नीलम जांगिड़, जांगिड़ हॉस्पिटल सुजानगढ़

Show More
Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned