VIDEO: झारिया पीएचसी के लगाया ताला, आठ माह से नहीं डाक्टर

निकटवर्ती गांव झारिया में आठ माह से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर डाक्टर का पद रिक्त होने से गांव के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मंगलवा रात को गांव में एक कुत्ते ने कई बच्चो को काट लिया।

चूरू. निकटवर्ती गांव झारिया में आठ माह से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर डाक्टर का पद रिक्त होने से गांव के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मंगलवा रात को गांव में एक कुत्ते ने कई बच्चो को काट लिया। बुधवार को भी कुत्ते ने बच्चों को काट लिया। लेकिन जब केन्द्र पर गए तो यहां चिकित्सक की कमी खली। ऐसे में बच्चों को इलाज नहीं मिल पाया। जिसके कारण उन्हें दूर क्षेत्र में उपचार के लिए जाना पड़ा। इससे ग्रामीण आक्रोशित हो गए। इस दौरान उन्होंने पीएचसी के ताला लगाकर विरोध जताया। काफी देर तक लगे ताले की जानकारी लगने पर सीएमएचओ से मामले में वार्ता की गई। जिस पर उन्होंने एक चिकित्सक को पीएचसी के लिए भेजा। इसके बाद ग्रामीणों ने ताला खोला। गांव के एडवोकेट सुनील मेघवाल ने बताया की पीएचसी में चिकित्सक का पद रिक्त होने से ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। यहां के लोग उपचार के लिए चूरू जाते हैं। चिकित्सक की कमी के संबंध में सीएमएचओ को कई बार अवगत भी कराया जा चुका है लेकिन समस्या का स्थाई समाधान नहीं किया जा रहा है। गांव के मनोज भार्गव व गोपीचन्द कस्वा ने बताया की ग्रामीणों के सहयोग से पीएचसी के ताला लगाया गया है। सरपंच बालाराम भार्गव ने ग्रामीणों से समझाइस कर पीएचसी का ताला खुलवाया। इसके बाद ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ।

Madhusudan Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned